Home Blog

SSD vs HDD in Hindi ? SSD और HDD में क्या अंतर है?

2

SSD vs HDD in Hindi ? SSD और HDD में क्या अंतर है?

दोस्तों क्या आप जानते है कि HDD vs SSD में क्या अंतर होता है ? HDD और SSD कैसे काम करती है ? आपके कंप्यूटर के लिए इनमे से कौन सा आप्शन बेहतर है ! अगर आप इन सभी सवालों के जबाब जानना चाहते है, तो इस पोस्ट को last तक पढ़िए ! आपके सभी सवालों के जबाब इस पोस्ट में मिल जायेंगे ! क्योंकि मैंने इस पोस्ट वह सारी जानकारी दी है ! जिसे जानना आपके लिए बहुत जरुरी है !

जब भी आप एक नया computer लेने के लिए जाते है तब आपसे दुकानदार Hard disk के बारे में पूछेगा कि आपको computer के लिए Hard Disk Drive लेना है या Solid State Drive ! उस समय आपके पास इन दोनों के बारे में कोई जानकारी नहीं होती है जिसके कारण हम एक बेहतर हार्डडिस्क का चुनाव नहीं कर पाते है !

Computer में कौन सी हार्डडिस्क लगाना चाहिए ! इसका फैसला आपको ही लेना है क्योंकि यह आपकी जरुरत पर निर्भर करता है ! परन्तु जरुरत के साथ आपको computer कि preference को भी ध्यान में रख कर लेना चाहिए ! इस Post को पढने के बाद आप computer के लिए एक बेहतर hard disk का चुनाव कर पाएंगे |

SSD और HDD में क्या अंतर है?

HDD क्या है – Hard Disk Drive

दोस्तों HDD का full form Hard disk Drive होता है ! यह एक प्रकार की मेमोरी है | इसे नॉन वोलेटाइल मेमोरी कहा जाता है ! हार्ड डिस्क का उपयोग फाइल या data को स्टोर करने के लिये किया जाता है यह कंप्यूटर का एक महत्वपर्ण भाग है ! हार्डडिस्क के अंदर आप data को permanently store करके रख सकते है ! इससे पहले हमने आपको RAM के बारे में जानकारी दी थी !

RAM भी एक प्रकार से मेमोरी है ! परन्तु RAM के अंदर आप data को permanently store नहीं कर सकते हो ! hdd क्या है ? लेकिन हार्डडिस्क के अंदर आप data को permanently store करके रख सकते हो, कंप्यूटर बंद होने के बाद भी आप हार्डडिस्क में आपका data save रहता है ! यह data जब तक save रहेगा , जब तक आप खुद उस data को डिलीट नहीं करते या हार्डडिस्क खाराब हो जाये ! इसे हम Secondary Storage Device भी कहते हैं! यह CPU के अंदर लगी होती है, और कुछ केबल के जरिये Motherboard से कनेक्ट रहती है| जैसे PATA, SCSI, SATA

Hard Disk Drive कैसे काम करती है ?

HDD कंप्यूटर के अंदर लगी होती है ! हार्डडिस्क के अंदर और भी कई parts लगे होते है जो हार्डडिस्क को चलाने में मदद करते है ! Hard disk data को रखने के लिए Magnetic Storage का उपयोग करती है! इसमें data को store करने के लिए एक या एक से अधिक गोल घूमने वाले Disk Platter लगे होते हैं ! जो magnetic material के बने होते हैं ! इन Platter के अंदर कई सारे ट्रैक और सेक्टर होते हैं और ये सब स्पिंडल की मदद से घूमते हैं !

जब Platter घूमना शुरू करता है तो हार्ड डिस्क में लगा एक read/write आर्म ऊपर की ओर दाये से बाए खिसकता है इसका काम होता है data को read और write करना ! जितनी ज्यादा गति से Platter घूमेगा डिस्क में डाटा उतनी ही ज्यादा गति से स्टोर होगा | इसकी स्पीड को हम RPM यानि Revolution per minute में मापते हैं |

Hard Disk Drive में कौन से Part होते है ?

हार्डडिस्क में कई part होते है जो हार्डडिस्क को चलाने में मदद करते है | हार्डडिस्क में कौन सा part क्या काम करता है ! यह समझने के बाद आपको एक हार्डडिस्क की पूरी जानकारी मिल जाएगी !

Logic Board यह एक तरह की chip होती है जो हार्डडिस्क से input या output होने वाली सभी जानकारी को नियंत्रित करती है !
Magnetic Platters यह Hard disk का महत्वपूर्ण भाग है क्योंकि इसमें सारा डाटा स्टोर होता है ! इसमें सारा डाटा चुम्बकीय रूप में store होता है और बाइनरी फॉर्म में सेव रहता है !
Actuator इसकी मदद से Read/Write arm घूमता है !
Read-Write Head हार्डडिस्क का यह पार्ट एक छोटा मैगनेट होता है, जो Read Write आर्म के आगे लगा होता है ! ये प्लेटर के ऊपर दायें से बाएँ खिसकता है, यह सूचनाओं को Record और store करने का काम करता है !
Spindle यह एक प्रकार की मोटर होती है, जो प्लेटर के बीच में लगी होती है इसकी मदद से प्लेटर घूमते हैं !
Connector यह सर्किट बोर्ड से Read/ Write और प्लेटर तक data पहुचाता है !
Circuit Board यह प्लेटर से डाटा के प्रभाव को नियंत्रित करता है ! यह कुछ प्रमुख part है जिनकी मदद से hard disk काम करता है ! आइये अब हम SSD के बारे में जानते है कि SSD और HDD में क्या अंतर है और SSD बेहतर क्यों है HDD से !

SSD क्या है ? (Solid state drive)

दोस्तों, SSD का full form होता है Solid State Drive. यह भी हमारे कंप्यूटर में उपलब्ध Hard disk की तरह ही Data store करने का ही काम करती है ! Solid State Drive की डाटा transfer करने की स्पीड हार्ड डिस्क की तुलना में बहुत तेज होती है ! यह हार्ड डिस्क का Update version है ,

हार्ड डिस्क की तुलना में बहुत हल्की और छोटी होती है ! परन्तु Solid State Drive हार्ड डिस्क से महंगी होती है ! इसका का अविष्कार कंप्यूटर को फ़ास्ट और पॉवर को consume करने के लिए बनाया गया है ! SSD flash storage का ही एक रूप होती है जिस तरह से मेमोरी कार्ड या पेन ड्राइव होते हैं !

solid state drive

SSD कैसे काम करती है?

दोस्तों जैसा की मैंने आपको बताया है कि हार्ड डिस्क में मैग्नेटिक पार्ट के घुमने से डाटा transfer होता है जबकि हार्डडिस्क में कोई भी मैग्नेटिक पार्ट नहीं होता है ! इसमें सारा काम सेमीकंडक्टर के द्वारा होता है इसमें कई सारी cheap लगी होती हैं बिलकुल RAM की तरह और क्यूंकि सेमीकंडक्टर मैगनेट से ज्यादा अच्छे से आपस में कम्यूनिकेट कर लेते हैं इसीलिए यह इतनी फ़ास्ट होती है।

SSD के प्रकार – Types of SSD

SATA SSD

ssd क्या है

यह लैपटॉप हार्ड डिस्क की तरह ही दिखाई देती है , और यह SATA कनेक्टर को ही सपोर्ट करती है ! इसी तरह की SSD मार्केट में सबसे पहले आई थी और यह Solid State Drive सभी प्रकार के कंप्यूटर को सपोर्ट करती है !

mSATA SSD

SSD vs Hdd

mSATA SSD का मतलब micro SATA SSD होता है ! यह साधारण Solid State Drive से form factor और कनेक्टिविटी दोनों से different होती है ! यह normal SSD के मुकाबले देखने में बहुत छोटी और अलग होती है यह देखने में RAM stick की तरह होती है ! इसका उपयोग सभी कंप्यूटर में नहीं किया जा सकता है इसका इस्तेमाल करने के लिए motherboard में mSATA पोर्ट होना जरुरी है ! इस तरह की hardisk का इस्तेमाल ज्यादातर लैपटॉप में किया जाता है !

M.2 SSD

SSD vs Hdd

इस तरह की SSD दिखने में तो mSATA की तरह ही होती हैं लेकिन यह इसका Update version है जो mSATA से फ़ास्ट है ! यह दोनों तरह की कनेक्टिविटी को सपोर्ट करती है इसे आप नार्मल SATA केबल से भी कनेक्ट कर सकते हैं और mSATA से भी mSATA एक PCI-E एक्सप्रेस पोर्ट की तरह ही होता है लेकिन यह थोडा छोटा और specially इस तरह की SSD को कनेक्ट करने में ही काम में लिए जाता है!

SSHD

SSHD को पूरी तरह SSD नहीं कहा जा सकता है क्योंकि इसे hard disk और Solid State Drive को मिला कर बनाया गया है ! इसकी ममोरी का कुछ भाग hard disk का होता है और कुछ Solid State Drive का ! इसलिए इसे SSD नहीं कहा जा सकता है !

SSD और HDD में क्या अंतर है

HDD (Hard Disk Drive ) SSD (Solid State Drive)
HDD चुंबकीय तत्व से बनी होती है, इसके अंदर Mechanical Parts लगे होते हैं SSD में कोई भी mechanical part नहीं होते है, इसमें IC का उपयोग किया जाता है !
HDD में स्टोरेज कैपिसिटी ज्यादा होती है SSD में अभी स्टोरेज कैपेसिटी कम है पर आगे future में इनकी कैपसिटी बढ़ सकती है
इनकी data access की speed कम होती है इनकी data access की speed ज्यादा होती है
HDD का weight ज्यादा होता है SSD का weight बहुत कम होता है
इनकी कीमत कम होती है इनकी कीमत ज्यादा होती है
हार्डडिस्क से data recover किया जा सकता है SSD से data recover नहीं किया जा सकता है
Hard disk एक सीमित समय तक ही चलेगी, क्योंकि इसमें कई part है जो लगातार चलने के कारण ख़राब हो सकते है ! जबकि SSD में ऐसे कोई part नहीं है जिसके कारण SSD लम्बे समय तक चल सकती है !
HDD की data access speed कम होने के कारण कंप्यूटर प्रोसेस धीरे होती है ! SSD की data access की speed ज्यादा होने के कारण computer प्रोसेस कई गुना बढ़ जाती है !
WHAT IS BEST FOR YOU? SSD vs HDD

दोस्तों अगर कोई मुझसे यह सवाल करेगा कि आपके लिए सबसे अच्छा क्या है? HDD vs SSD? तो मेरा जवाब एक ही होगा ! जो मैं आपको बताने जा रहा हूं ! दोस्तों मुझे लगता है कि दोनों सबसे अच्छे HDD vs SSD हैं। अब यह costumer की जरूरतों और बजट पर निर्भर करता है कि वह क्या चाहता है। यदि उसके पास कम बजट है और वह अच्छी गति और प्रदर्शन नहीं चाहता है, तो HDD उसके लिए सबसे अच्छा होगा। यदि किसी costumer के पास SSD को खरीदने के लिए बजट है और वह अच्छी Speed performance चाहता है, तो SSD उसके लिए बेहतर होगा।

मेरे पास आपके लिए एक सुझाव है। आप अपने कंप्यूटर में HDD और SSD दोनों का उपयोग कर सकते हैं। इसके लिए आपको विंडो इंस्टॉलेशन के लिए Solid State Drive खरीदना होगा। मेरा मतलब है कि आपको एक SSD खरीदना चाहिए जो कम स्टोरेज का हो, ऐसा करने से आपको कम बजट में Solid State Drive मिलेगी !

फिर storage के लिए Hard disk का उपयोग करें! इसके द्वारा आपको कम बजट में Speed, storage, good performance आदि मिलेगा। SSD vs HDD खरीदते समय आपको एक बात और जान लेनी चाहिए, कि HDD और SSD डेटा ट्रांसफर करने की अलग-अलग गति में उपलब्ध हैं। मैंने नीचे कुछ link दिए हैं यदि आप रुचि रखते हैं तो आप उन link को देख सकते हैं।

People also ask

Q. Which is better SSD or HDD?

ANS. HDD और SSD में से हम SSD पर ज्यादा विश्वाश कर सकते है ! क्योंकि यह लम्बे समय तक चल सकती है और इसे इस्तेमाल करने के लिए कम पॉवर कि आवश्यकता होती है ! या आपके computer की performance को बढाती है ! तो solid state drive एक बेहतर Option है !

Q. Which SSD is best?

ANS. Best SSDs at a glance

  • Intel Optane 905P – best U.2 Solid State Drive.
  • Samsung 970 Pro – best NVMe Solid State Drive.
  • Toshiba OCZ RD400 – best PCIe Solid State Drive.
  • Adata XPG SX8200 SSDbest M.2 Solid State Drive.
  • Samsung 860 Pro – best SATA 3 Solid State Drive.
  • Intel 750 Series – best U.2 Solid State Drive.
  • Samsung 860 Evo – best budget Solid State Drive.
  • HP S700 Pro – best endurance Solid State Drive
Q. What is the difference between SSD and HDD?

ANS. SSD and HDD में क्या अंतर है इस प्रश्न का जबाब मैंने ऊपर दिया है आप उसे पढ़ कर अच्छे से समझ सकते है !

दोस्तों इस post कि मदद से अगर आपको help मिलती है। तो इसे अपने दोस्त को शेयर करें जिससे उन्हें भी HDD और SSD के बारे में जानकारी मिले। क्या अभी भी आपके दिमाग में HDD और SSD से संबंधित doubts हैं तो आप comment करके पूछ सकते है ! और हमारी website के बारे में भी सुझाव दे जिससे हम website को और बेहतर बना सके ! आपका दिन शुभ हो…..

Read in English

यह भी पढ़े :-

Aadhar card Online update कैसे करें? 2022 नाम,पता,DOB, FREE

0

दोस्तों अगर आप भी जानना चाहते है कि Aadhar card Online update कैसे करें? 2022 में। आज कि पोस्ट में हम नाम,पता,DOB,और gander को अपडेट करने के बारे में पूरी जानकारी देने वाले है, वो भी बिलकुल FREE में। बस आपको इस पोस्ट को अंत तक पढना होगा। क्योंकि आधार कार्ड बनाने से लेकर उसे अपडेट कैसे करें। इसके क्या उपयोग है, आधार कार्ड ऑनलाइन कैसे अपडेट करे? आधार कार्ड डाउनलोड कैसे करें।

ऐसे कई सवाल है, जो आपके मन में जरुर आ रहे होंगे तभी आप इस पोस्ट को पढ़ने के लिए ऑनलाइन आये है, और आज हम आपकी आधार कार्ड से सम्बंधित सभी सवालों के जबाव इस पोस्ट में क्लियर कर देंगे। तो आइये दोस्तों पहले हम आधार कार्ड के विषय में कुछ महत्वपूर्ण जानकारी देना चाहेंगे। ताकि आपको आधार कार्ड के विषय में पूरी जानकारी मिल सके। Aadhar card Online update कैसे करें? यह जानने से पहले, आधार कार्ड क्या है? यह जान लेते है।

Aadhar card Online update

आधार कार्ड क्या है? – Aadhara card kya hai

Aadhar card Online update कैसे करें? यह जानने से पहले, आधार कार्ड क्या है? (Aadhara card kya hai) यह जान लेते है। आधार कार्ड एक unique identification number है, जो भारत सरकार के द्वारा भारतीय लोगों के लिए उनकी पहचान के लिए निकाला गया है। इसकी जिम्मेदारी Unique Identification Authority of India (UIDAI) डी गई है, जिनका काम Aadhar numbers और Aadhar identification cards की देखरेख करना है।

आधार कार्ड पर 12 अंक का unique identification number प्रिंट होता है, जो सभी भारतीयों के लिए अलग-अलग होता है, आधार कार्ड सभी के लिए बहुत ही जरुरी है, यह आधार कार्ड 1 साल से ऊपर के बच्चो के साथ- साथ सभी उम्र के लोगो को लिए बनाया जाता है। आधार कार्ड पर आपका नाम, मोबाइल नंबर, पता, जन्म तारीख, finger print और आँखों का retina scan तक की जानकारी रहती है। जिसके द्वारा हर एक भारतीय की पहचान की जा सकती है।

Aadhar card के लाभ क्या है?

आधार कार्ड क्या है? यह तो आपको समझ गया होगा। चलिए अब जानते है, कि Aadhar card के लाभ क्या है? और यह हमारे लिए क्यों जरूरी है। दोस्तों जब भी हम किसी भी प्रकार का form भरते है, तो हम से identity proof, address proof, जन्म प्रमाण पत्र ये सभी document लगाने के लिए कहा जाता है, और identity proof के लिए हम pan card, voter ID card, driving license, passport आदि का इस्तेमाल करते है।

identity proof आपके लिए कितना जरुरी यह बात तो आप अच्छी तरह समझते है, चाहे आपको बैंक में अकाउंट खोलना हो, sim card लेना हो, टिकेट बुक करना हो, या फिर आपको किसी भी government scheme का लाभ लेना हो। सभी जगहों पर आपसे पहले ID proof ही माँगा जाता है। और यह सभी जगहों पर जरुरी है, चाहे आप ऑनलाइन form भरे या ऑफलाइन।

लेकिन दोस्तों अगर आपके पास आधार कार्ड है, तो आप इन सभी document की जगह पर आप आधार कार्ड का इस्तेमाल कर सकते है, आधार कार्ड का उपयोग ID proof, address proof, date of birth proof इन सभी में कर सकते है। क्योंकि दोस्तों आधार कार्ड में आपकी फोटो, finger print, नाम, जन्म तिथि, पता, और Gander ये सभी जानकारी प्रिंट होती है।

Aadhar card Online update कैसे करें ? 2022

दोस्तों अब आपको आधार कार्ड की पूरी जानकारी मिल गई होगी, अब हम Aadhar card Online update कैसे करें ? 2022 में, इस विषय पर बात करेंगे क्योंकि जैसा की आप सभी लोग जानते है, कि आधार कार्ड को offline अपडेट करना कितना मुश्किल काम है, लेकिन 2022 में भारतीय सरकार ने एक नया पोर्टल शुरु किया है जिस पर आप बड़ी आसानी से अपने आधार कार्ड को घर बैठे ऑनलाइन अपडेट कर सकते है। तो चलिए दोस्तों आपको में वह सभी step बताता हूँ जिनकी मदद से आप अपने आधार कार्ड को अपडेट कर सकते है। 

आधार कार्ड डाउनलोड कैसे करें ?

आधार कार्ड डाउनलोड कैसे करें ? यह सवाल भी आपके मन में आ रहा होगा, लेकिन दोस्तों आधार कार्ड डाउनलोड करना बहुत ही आसान है, बस आपके पास Aadhaar Number, Enrollment ID, या Virtual ID होना जरुरी है, और सबसे महत्वपूर्ण है, मोबाइल नंबर । दोस्तों अगर आपके पास आधार नंबर भी नहीं है तो भी आधार को डाउनलोड कर सकते है, परन्तु आपके पास रजिस्टर किया गया मोबाइल नंबर होना बहुत ही जरुरी है। तो चलिए दोस्तों आधार कार्ड डाउनलोड कैसे करते है। यह भी जान लेते है। 

आधार कार्ड में नाम पता कैसे बदलें?

1. आधार कार्ड ऑनलाइन अपडेट करने के लिए सबसे पहले Government की new Official website https://myaadhaar.uidai.gov.in/ पर जाना होगा । 
2. उसके बाद आपको Login बटन पर click करना है,
3. अब आधार नंबर, Captcha और OTP number टाइप करें, और लॉग इन बटन पर click करें। 
4. Login होने के बाद आपको बहुत सारे आप्शन दिखाई देंगे, जिसमे से आपको Update Aadhaar Online पर click करना है। इसके बाद आपको आधार कार्ड को अपडेट कैसे करना है, यह जानकारी दी जाएगी। अब आपको Proceed to Update aadhaar पर click करना है।
5. अब आपके सामने नाम और पता बदलने के लिए आप्शन दिखाई देगा, इसमें आप अपना सही नाम और पता टाइप करें।
6. इसके बाद आपको सत्यापन के लिए डॉक्यूमेंट अपलोड करना है ।
7. अब आपको 50 रुपये की पेमेंट करना है, पेमेंट होने के बाद 5 से 7 दिनों में आपका आधार अपडेट हो जायेगा ।

आधार कार्ड में ऑनलाइन मोबाइल नंबर कैसे बदलें?

आधार कार्ड में ऑनलाइन मोबाइल नंबर बदलने के लिए आपको निम्नलिखित स्टेप्स को फॉलो करना होगा, UIDAI के साथ मोबाइल नंबर register हो जाने के बाद सभी OTP आपके नए मोबाइल नंबर पर भेजे जायेंगे, तो चलिए जानते है कि आधार कार्ड में मोबाइल नंबर कैसे Update कर सकते है।
1- पास के आधार नामांकन केंद्र जाएं
2- आधार एनरोलमेंट फॉर्म भरें 
3- फॉर्म में अपना मोबाइल नंबर लिखें
4- अधिकारी के पास फॉर्म को जमा करें
5- अपना बायोमेट्रिक्स दे करके अपनी जानकारी को प्रमाणित करें। आपको कोई दस्तावेज प्रदान करने की आवश्यकता नहीं है
6- इस सेवा का लाभ उठाने के लिए 50 रु. की फीस का भुगतान करें
7- यदि आपने आधार आवेदन के समय मोबाइल नंबर दिया था तो आपको फिर से रजिस्ट्रेशन करने की आवश्यकता नहीं है

Conclusion

दोस्तों मुझे आशा है कि आपको Aadhar card Online update कैसे करें ? यह जानकारी मिल गई होगी, यह पोस्ट आपको कैसा लगा अपने विचार और सुझाव जरुर बताएं, और अगर आपको आधार update करने में कोई परेशानी आती है तो आप कमेंट करके पूछ सकते है, और दोस्तों अगर आपको यह पोस्ट अच्छा लगा हो, तो अपने दोस्तों के साथ जरुर share करें ! धन्यवाद 

Aadhar card online download कैसे करें ? – Free 2022 (नये तरीके)

0

दोस्तों क्या आप भी आधार कार्ड को डाउनलोड कैसे करें ? free 2022 में (Aadhar card online download kaise karen ?) यह जानना चाहते है, तो आप बिलकुल सही ब्लॉग पढ़ रहे है। आज की इस पोस्ट में आपको वह सभी तरीके बताऊंगा जिनके जरिये, आप बड़ी आसानी से आधार कार्ड को डाउनलोड कर सकते है। अगर आपका आधार कार्ड खो भी गया है तब भी आप आधार कार्ड को डाउनलोड करा सकते है, बस आपको इस पोस्ट अंत तक पढ़ना होगा।

दोस्तों अगर आप आधार कार्ड के बारे में जानना चाहते है कि आधार कार्ड क्या है, और इसे online update कैसे करते है तो, आप करना चाहते है, तो आप पिछली पोस्ट को पढ़ कर पूरी जानकारी ले सकते हो। तो चलिए अब जान लेते वह कौन से तरीके है, जनकी मदद से आप आधार कार्ड को download कर सकते है।

आधार नंबर से आधार कार्ड डाउनलोड कैसे करें ?

आधार नंबर के द्वारा बड़ी ही आसानी से आप आधार कार्ड को डाउनलोड कर सकते है, परन्तु 2022 में UIDAI ने एक नया पोर्टल शुरू किया है, जिसमे आधार कार्ड को डाउनलोड और Update कर सकते है । बस आपको नीचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो करना है, चलिए अब जानते है कि आधार नंबर से आधार कार्ड कैसे डाउनलोड करें ?

  • Step – 1:- UIDAI Online Portal Open करें।
  • Step – 2:- सबसे पहले आपको इस नए पोर्टल पर लॉग इन करना होगा, इसके लिए आपके समने right side में लॉग इन बटन दिखाई देगी, उस बटन पर क्लिक करें ।
  • Step – 3:- अब अपना 12 अंको का यूनिक आधार नंबर टाइप करें और captcha टाइप करें, फिर send OTP बटन पर क्लिक करें।
  • Step – 4:- अब आपके register मोबाइल नंबर पर OTP आएगा, उस OTP को दर्ज करें और Log in बटन पर क्लिक करें ।
  • Step – 5:- लॉग इन करने के बाद आपको Download Aadhaar पर क्लिक करना है, इसके बाद आपका aadhar card एक PDF file में डाउनलोड होना शुरू हो आयेगा ।
  • Step – 6:- यह PDF file पासवर्ड प्रोटेक्ट होती है, इसे open करने के लिए आपको अपने नाम के शुरू के 4 capital latter और आपकी date of birth में से बिना space दिए अपनी जन्म साल को टाइप करें। आपका आधार कार्ड open हो जायेगा ।

Enrollment ID से Aadhar card online Download कैसे करें ?

Enrollment ID से aadhar card online download करने की आवश्यकता तब पड़ती है, जब आप अपना या अपने परिवार का नया Aadhaar card बनवाते है, या फिर अपने आधार कार्ड में update करते है, तब आपको Enrollment ID दी जाती है, जिसकी मदद से आप आधार कार्ड को डाउनलोड कर सकते है, Enrollment ID 28 अंको की होती है,

जब भी आप online Aadhaar card बनवाते है या उसे update करते है, तो आपको एक रसीद दी जाती है, जिसमे Enrollment no. दिया होता है, जिससे आप आधार कार्ड को ऑनलाइन चेक कर सकते है, तो चलिए दोस्तों अब हम यह जान लेते है कि Enrollment ID से आधार कार्ड डाउनलोड कैसे करते है ?

Enrollment ID से Aadhar card online Download तरीका

  • सबसे पहले UIDAI की Website के होमपेज पर जाना है ।
  • अब menu में My Aadhaar ▶ से Download Aadhaar पर क्लिक करें ।
  • फिर आपके पास एक नया पोर्टल होगा जिसे My Aadhaar के नाम से बनाया गया है, फिर यहाँ आपको पहला आप्शन Download Aadhaar का दिखाई देगा, इस आप्शन पर क्लिक करें ।
  • eAadhaar Download के आप्शन में आपको Enrollment ID के option को सेलेक्ट करना है।
  • अब आपको यहाँ Enrollment ID को टाइप करना करना है, ध्यान रहे इस ID में तारीख और समय दोनों शामिल है।
  • फिर आप Captcha code type करें, और Send OTP पर क्लिक करें ।
  • आपके रजिस्टर mobile number पर जो OTP आया है, उसे type करें और अब आप बड़ी आसानी से Enrollment id से Aadhaar कार्ड को डाउनलोड कर सकते है।

Virtual ID से आधार कार्ड ऑनलाइन डाउनलोड कैसे करें ?

दोस्तों आप Virtual ID के द्वारा भी aadhar card online download कर सकते है। Virtual ID 16 अंको की होती है, जो आपके आधार कार्ड में आधार नंबर के नीचे दिया होता है। Virtual ID को short में VID भी कहा जाता है।

  • UIDAI वेबसाइट open करें, या My Aadhaar के new portal को डायरेक्ट open भी कर सकते है।
  • अब आप Download Aadhar पर click करें ।
  • फिर आप  Virtual ID के आप्शन को select करें ।
  • अब आपको अपना Virtual ID नंबर और captcha code type करना है, send OTP के बटन पर Click करना है।
  • इसके बाद आपके आपके रजिस्टर मोबाइल नंबर पर OTP आएगा, इस OTP को टाइप करें और डाउनलोड आधार पर click करें।
  • इस तरह आपके मोबाइल ता कंप्यूटर में एक PDF file के रूप में Aadhar Card online Download हो जायेगा।

नाम से Aadhar card online download कैसे करें ? free 2022

तो चलिए दोस्तों अब हम नाम से Aadhar card online download कैसे करें ? free 2022 यह जानकारी देते है, आधार कार्ड को नाम के द्वारा भी डाउनलोड किया जा सकता है, इसका उपयोग तभी किया जाता है जब आपको आधार नंबर या virtual ID का पता नहीं होता है, या आपका आधार कार्ड खो जाता है, ऐसी स्थिति में हमे नाम के द्वारा ही आधार को डाउनलोड करना होता है, तो चलिए जानते है कि हम नाम के द्वारा आधार कार्ड ऑनलाइन डाउनलोड कैसे करेंगे ?

  • सबसे पहले https://uidai.gov.in/ वेबसाइट को open करें।
  • अब My Aadhaar menu से Retrieve Lost Or Forgotten EID/UID आप्शन को select करें।
  • फिर आप Aadhaar Number के आप्शन को select करें ।
  • इसके बाद आपको अपना नाम type करना है, नाम की spelling जो आधार कार्ड में दी गई हो, वही type करना है, तभी आपका आधार नंबर generate होगा ।
  • अब मोबाइल नंबर या अगर आपका ईमेल रजिस्टर है तो ईमेल को भी type कर सकते है।
  • फिर दिए गए Captcha code को enter करें, और send OTP पर click करें।
  • अब OTP Enter करें, और वेरीफाई बटन पर click करें।
  • verify करने के बाद आपके मोबाइल नंबर Aadhar Number को भेज दिया जायेगा ।
  • अब आप इस आधार नंबर के जरिये, ऊपर दिए steps को फॉलो करके Aadhar card online download कर सकते है।

Masked aadhar card online kaise download karenमास्क्ड आधार कार्ड कैसे डाउनलोड करें?

दोस्तों masked Aadhar card और सामान्य आधार कार्ड एक जैसे ही होते है। इन दोनों आधार कार्ड में एक ही अंतर होता है, masked aadhar card में आधार नंबर के अंत के 4 अंक ही दिखाई देते है और शुरू के अंको को छुपा दिया जाता है, इस आधार कार्ड का उद्देश्य आपके आधार को अन्य लोगो से सुरक्षित करना है, यह आधार कार्ड भी सामान्य आधार कार्ड की तरह मान्य होता है। तो चलिए अब जानते है कि मास्क्ड आधार कार्ड कैसे डाउनलोड करें?

  1. सबसे पहले  UIDAI Portal Open करें, और Download Aadhar पर click करें ।
  2. अब Aadhar Number, VID number, या Enrollment ID के सेक्शन में से किसी एक को चुने और वही नंबर type करें।
  3. फिर captcha type करें और Send OTP पर click करें।
  4. इसके बाद OTP enter करें और download aadhar पर click करें
  5. अब आपको एक आप्शन और दिखाई देगा, जिसमे Do you want a masked Aadhaar? को सेल्क्ट करना है।
  6. अब जो आधार कार्ड आपके पास डाउनलोड होगा, वह Masked Aadhar card होगा।

मोबाइल नंबर के बिना Aadhar card online download कैसे करें ?

दोस्तों अगर आपका रजिस्टर मोबाइल नंबर खो जाता है, या लम्बे समय तक रिचार्ज न करने के कारण बंद हो जाता है ऐसी स्थिति में मोबाइल नंबर के बिना Aadhar card online download कैसे करें ? यह जानकारी आपके पास होना बहुत ही जरुरी है, क्योंकि मोबाइल नंबर के बिना आप आधार कार्ड ऑनलाइन डाउनलोड नहीं कर सकते है, अगर आपके पास रजिस्टर मोबाइल नंबर नहीं है, तो आपको ऑफलाइन ही अपने आधार कार्ड को प्रिंट करना होगा ।

सबसे पहले अपने नजदीकी आधार केंद्र जाना होगा, आधार केंद्र पर बायोमेट्रिक प्रोसेस यानि आपके उंगलियों के निशान या आँखों की रेटिना को स्केन करके आधार कार्ड को प्रिंट करा सकते है, परन्तु या प्रोसेस free नहीं होती है, इसमें 50 रुपए का शुल्क लगती है, जिसमे आपको आपका आधार कार्ड प्रिंट करके दिया जाता है।

डिजिटल लॉकर ई-आधार कैसे डाउनलोड करें?

डिजिटल लॉकर (Digital Locker) या फिर डिजी लॉकर एक वर्चुअल लॉकर होता है, इसमें आप अपने सभी जरूरी दस्तावेज जैसे – PAN Card, Driving license, Voter ID Card आदि सुरक्षित कर सकते हैं, इसमें आप कई तरह के सरकारी प्रमाण पत्र आदि भी स्टोर कर सकते हैं।

Digital Locker को UIDAI के साथ लिंक किया गया है, यह एक cloud platform है, इसमें अकाउंट बनाने के लिए आधार कार्ड का होना जरुरी है, जिसका उपयोग document को सुरक्षित रखने और साझा करने के लिए बनाया गया है, इसकी मदद से आप document को digital रूप में देख भी सकते है, और इसे government Site पर भी लिंक किया जाता है, यह document को online रखने का एक सुरक्षित तरीका है। तो चलिए दोस्तों अब हम जन लेते है कि digital Locker से Aadhar card online download कैसे करें ?

  • सबसे पहले Digital Locker अकाउंट में Login करें ।
  • लॉग इन करने के लिए 12 डिजिट का आधार नंबर type करें ।
  • Verify पर क्लिक कर OTP के लिए Request भेजे।
  • OTP आने पर उसे enter करें और Verify OTP पर क्लिक करें 
  • जारी दस्तावेज का पेज आएगा।
  • फिर Save आइकन का इस्तेमाल कर e-Adhaar डाउनलोड करें ।

आधार कार्ड से सम्बंधित सवाल – जवाब

नया आधार कार्ड कैसे निकाला जाता है?

Step : 1 – नया आधार कार्ड निकालने के लिए UIDAI की Website के होमपेज पर जाना है ।
Step : 2 – अब menu में My Aadhaar ▶ से Download Aadhaar पर क्लिक करें ।
Step : 3 – फिर आपके पास एक नया पोर्टल open होगा, जिसे My Aadhaar के नाम से बनाया गया है,
Step : 4 – फिर यहाँ आपको पहला आप्शन Download Aadhaar का दिखाई देगा, इस आप्शन पर क्लिक करें ।
Step : 5eAadhaar Download के आप्शन में आपको Enrollment ID के option को सेलेक्ट करना है।
Step : 6 – अब आपको यहाँ 14 Digit की Enrollment ID को टाइप करना करना है, इसके बाद तारीख और समय type करना है, इस तरह Enrollment ID 28 कि हो जायेगी।
Step : 7 – फिर आप Captcha code type करें, और Send OTP पर क्लिक करें ।
Step : 8 – आपके रजिस्टर mobile number पर जो OTP आया है, उसे type करें ।
Step : 9 – अब डाउनलोड आधार कार्ड पर click करें ।

मेरे आधार कार्ड का पासवर्ड क्या है?

आधार कार्ड पासवर्ड (Aadhaar Card Password) जिसका आधार है उसके नाम के शुरुआती चार अक्षरों (CAPITAL में) और जन्म के वर्ष (YYYY) का एक कॉम्बिनेशन होता है।
उदाहरण – आधार कार्ड में मेरा नाम KAPIL है, और मेरी जन्म तारीख 20/06/1992 है, तो मुझे पासवर्ड में KAPI1992 टाइप करना होगा ।

Conclusion

दोस्तों इस पोस्ट को अंत तक पढ़ने के बाद आपको उन सभी तरीको के बारे पता चल गया होगा, जिनकी मदद से आप बड़ी आसानी से aadhar card online download कर सकते है। Aadhar card से सम्बंधित अगर अभी भी आपको कोई Doubt है, तो आप कमेंट करके पूछ सकते है। अगर आपको यह पोस्ट अच्छा लगा हो तो अपने दोस्तों के साथ जरुर share करे। इस पोस्ट को अंत तक पढने के लिए आपका धन्यवाद ! 

Hindi Typing kaise karen? कंप्यूटर और मोबाइल में- Free Tool 2022

3

दोस्तों, हिंदी टाइपिंग कैसे करें? 2022 (Hindi Typing kaise karen) कंप्यूटर और मोबाइल में। यह सवाल उन सभी के मन में जरुर आता है, जो social media पर chatting  या हिंदी में  blogging करना चाहते है। क्योंकि हिंदी भाषा हमारी मातृ भाषा है। और बोलने, पढने और समझने में आसान होती। परन्तु हमे मोबाइल और कंप्यूटर में टाइपिंग करने के लिए English keyboard ही देखने को मिलता है।

अगर आप blogging करना चाहते है, और आप चाहते है, कि मै English शब्दों का प्रयोग करके हिंदी में लिख सकू। तो कितना अच्छा होगा। इस तरह की language को Hinglish language कहते है। इसका मतलब Hindi और English को मिलाकर लिखी जाने वाली  language को Hinglish भाषा कहा जाता है।

इसमें अगर आप English में भी टाइप करते  है, तो आप बड़ी आसानी से Hindi में टाइप हो जाता है। जैसे – Mai aaj bhopal gaya tha. तो टाइप हो जायेगा – मै आज भोपाल गया था, इस भाषा का प्रयोग करके blogging करते है, तो आप दोनों भाषा के Keywords को Rank करा सकते है।

Google पर भी इस भाषा में search रिजल्ट बढ़ रहा है, तो अगर आप हिंदी भाषा में blogging करते है, तो आपको आने वाले समय में बहुत ही अच्छे रिजल्ट मिल सकते है। तो दोस्तों मै आज की इस पोस्ट में आपको कुछ ऐसे तरीके बताने वाला हूँ। जिनकी मदद से आप बड़ी आसानी से हिंदी टाइपिंग कर पाएंगे। बस आपको इस पोस्ट को आखिर तक पढ़ना है।

hindi typing kaise karen

कंप्यूटर में हिंदी टाइपिंग कैसे करें – Computer Me Hindi Typing Kaise Karen

तो चलिए दोस्तों अब जानते है कि कंप्यूटर में हिंदी टाइपिंग कैसे करें? (Computer Me Hindi Typing Kaise Karen) दोस्तों जैसा की आप सभी जानते है, कंप्यूटर में हिंदी टाइपिंग करने का पुराना जो तरीका था। उसमे हमे अपने कंप्यूटर में fonts को इनस्टॉल करना होता था, और उन fonts को select करने के बाद ही हम हिंदी टाइपिंग कर पाते थे। अगर आपको font को इनस्टॉल करना नहीं आता है, तो आप हमारी Computer में Hindi font कैसे Install करते है? इस पोस्ट को भी पढ़कर font को इनस्टॉल करना सीख सकते है। इस तरह हिंदी टाइपिंग करने मै थोड़ी सी परेशानी आती है,

क्योंकि आपके पास Hindi भाषा मे keyboard नहीं होता है। हिंदी टाइपिंग सीखने के लिए ऑनलाइन आपको Hindi chart बड़ी आसानी से मिल जायेगा। परन्तु इसके लिए आपको बहुत अभ्यास करना होगा। लेकिन दोस्तों आज के समय में आपको ऑनलाइन और ऑफलाइन हिंदी टाइपिंग करने के लिए Tools मिल जायेंगे। जिनकी मदद से आप Hinglish भाषा का प्रयोग करके हिंदी टाइपिंग कर सकते है। आज मै आपको ऐसे ही दो Best Tools के बारे में बताने वाला हूँ।

Hindi Typing Tools Free

  • Quillpad tools
  • Google Input Tools  
hindi typing

1. Quillpad tools से हिन्दी टाइपिंग कैसे करे ? 

दोस्तों सबसे पहले हम Quillpad tools से हिन्दी टाइपिंग कैसे करे ? यह सीखते है? दोस्तों वैसे तो हिंदी टाइपिंग के लिए बहुत से tools online मिल जायेंगे। परन्तु Quillpad tools हिंदी टाइपिंग के लिए एक बेहतर tools है। इस tools का उपयोग करने के लिए quillpad.in की website पर जाना होगा। और आपके सामने टाइप करने का option दिखाई देगा। आपको सिर्फ Hinglish भाषा का प्रयोग करके टाइप करते जाना है, और आपके सामने हिंदी में वाक्य टाइप होता जायेगा।

टाइप करने के बाद उस Matter को copy करके उसे अपने ब्लॉग में paste  कर सकते है।  tool में आप हिंदी भाषा के आलावा और भी कई भाषा में टाइप कर सकते है। जैसे – बंगाली, मराठी, कन्नड़ा, मलयालम, तमिल, तेलुगु, पंजाबी, नेपाली, आदि  परन्तु यह  tool केवल Online ही काम करता है।

2. Google Input Tools से हिंदी टाइपिंग कैसे करें ?

अब हम Google Input Tools से हिंदी टाइपिंग कैसे करें ? यह जानते है। Google input tools एक ऐसा tools है जिसे online और offline दोनों तरह से उपयोग कर सकते है। क्योंकि दोस्तों यह जरुरी तो नहीं है, कि आपके पास हर समय internet उपलब्ध हो। ऐसे समय पर google input tools एक बेहतर option है। google ने लोगो को लिए ऐसा tool बनाया है जिसकी मदद से Hindi के अलावा और भी कई भाषाओ में offline typing की जा सकती है।

यह tool मुझे भी बहुत पसंद है, और मै भी इसी tool का इस्तेमाल करता हूँ। यह tool भी quillpad tools की तरह ही काम करता है। इस tool में जब आप टाइप करते हो तो आपको और भी शब्द suggestion में आते है जिन्हें देखकर भी आप सही शब्द का चुनाव कर सकते है। जिससे गलती होने के बहुत काम chance हो जाते है।

Google input tools को 2020 से google की site से remove करके इसे google chrome में Extension के रूप में add कर दिया है। अगर आपको यह tool चाहिए, तो आप नीचे दिए गए link पर click करके Download कर सकते है। इसे Install करना बहुत ही आसान है। tools download करने पर आपको Win RAR फाइल मिलेगी।

आपको इसे Extract कर लेना है इसके बाद आपको Tool और Hindi language दोनों Setup को computer में install कर लेना है। tools install हो जाने के बाद आपको computer पर  taskbar में right side में language change करने का option दिखाई देगा। जैसे ही आप टाइप करने के लिए हिंदी भाषा को select करते है। उसके बाद आप बिना internet के भी हिंदी टाइपिंग कर सकते है।

Download button

मोबाइल में हिंदी टाइपिंग कैसे करें? – Mobile Me Hindi Typing Kaise Karen

दोस्तों अभी तक हम कंप्यूटर पर हिंदी typing करने की बात कर रहे थे। लेकिन क्या आपको पता है, कि मोबाइल में हिंदी टाइपिंग कैसे करें? (Mobile Me Hindi Typing Kaise Karen). अगर आप नहीं जानते है, तो चलिए आपको यह भी बता देते है। कि google ने एक ऐसा APP बनाया है जिसकी मदद से आप मोबाइल में भी हिंदी टाइपिंग बड़ी आसानी से कर सकते है। इस APP की मदद से आप Hindi भाषा के अलावा और भी कई भाषा में टाइपिंग कर सकते है।

जैसे – English, गुजरती, मराठी, पंजाबी , मलयालम,तमिल , तेलगु  इत्यादि। इस APP का नाम है Google Indic Keyboard  यह एक keyboard App है। इस APP को इनस्टॉल करने के बाद अपने mobile  के keyboard से set करना होता है।उसके बाद आप बड़ी आसानी से Hindi टाइपिंग कर सकते है।

हिन्दी टाइपिंग से सम्बंधित सवाल-जबाव

प्रश्न – लैपटॉप हिंदी में कैसे करें?

उत्तर – लैपटॉप या कंप्यूटर में हिन्दी टाइप करने के दो तरीके है,
पहला तरीका लैपटॉप में हिन्दी टाइपिंग करने के लिए आपको कंप्यूटर या लैपटॉप में Hindi Font इनस्टॉल करना पड़ेगा। Hindi font कई प्रकार के है, इनमे से kruti और देवनागरी font ज्यादा इस्तेमाल किये जाते है, परन्तु यह तरीका काफ़ी पुराना है, और कठिन भी।
दूसरा तरीका – इस तरीके में आपको हिन्दी टाइपिंग टूल डाउनलोड करना होता है, इन tools की मदद से आप बहुत ही आसान तरीके से हिन्दी टाइपिंग कर सकते है, इन tools की मदद से आप Hinglish typing करके Hindi टाइप कर सकते है। हिन्दी टाइपिंग के लिए Quillpad tools और Google Input Tools सबसे ज्यादा उपयोग किए जाते है।

प्रश्न – व्हाट्सएप पर बोलकर टाइपिंग कैसे करें?

उत्तर – व्हाट्सएप पर बोलकर टाइपिंग करना बहुत ही आसान है, जब आप chat करने के लिए जाते है, तो आपके keyboard में एक mice का ऑप्शन दिखाई देता है, आपको इस mice पर click करना है, और आप जो भी बोलेंगे वह टाइप हो जायेगा। लेकिन अगर आप किसी और भाषा में टाइप करना चाहते है, तो mice के left side में सेटिंग का आप्शन दिखाई देगा। उस पर click करे और सेटिंग में जाकर अपनी मन पसंद भाषा का चुनाव कर सकते है और अपनी मन पसंद भाषा में टाइप कर सकते है।

प्रश्न – हिंदी में टाइप करने का सबसे तेज़ तरीका क्या है?

हिंदी में टाइप करने का सबसे तेज़ तरीका – Google input tools का उपयोग करके आप सबसे तेज हिन्दी टाइप कर सकते है, क्योंकि इस tools की मदद से आप Hinglish में टाइप करके हिन्दी टाइपिंग कर सकते है। और Hinglish भाषा में टाइप करना आसान होता है और गलतिय भी बहुत कम होती है।

प्रश्न – Jio मोबाइल में व्हाट्सएप पर हिंदी में कैसे लिखें?

Jio मोबाइल में व्हाट्सएप पर हिंदी में लिखने के लिए आपको अपने जियो फोन में Settings में Personalization के Option पर जाना होगा मिलेगा, उसे आप Open करें। फिर Personalization वाले पेज में आपको Input Methods का Option मिलेगा, उस पर आपको click करना है। Input Methods पर क्लिक करने के बाद आपको Input Languages का Option मिलेगा, आपको उस पर क्लिक करना है। अब अपनी भाषा का चुनाव करे। और सेटिंग को सेव करे, अब आपके keyboard में हिन्दी latter show होने लगेंगे। इन्हें सेलेक्ट करके आप Jio phone में Hindi टाइपिंग कर सकते है।

Conclusion

दोस्तों इस पोस्ट को पढने के बाद आब आपको सारी जानकारी मिल गई होगी कि computer और mobile में हिंदी टाइपिंग कैसे करते है ? दोस्तों अगर आपको यह पोस्ट अच्छी लगी हो, तो अपने दोस्तों को जरुर शेयर करे ताकि उन्हें भी पता चल सके, कि हिंदी टाइपिंग कैसे करते है।

अगर आपको कुछ परेशानी आती है, तो आप comment करके भी पूछ सकते है। मै आपकी पूरी Help करूँगा। और दोस्तों website को लेकर अगर आपके पास कुछ सुझाव है तो वह भी हमारे साथ share करे। जिससे इस website को और बेहतर बना सके। पोस्ट को अंत तक पढ़ने के लिए धन्यवाद।

Affiliate Marketing से free में पैसे कैसे कमाएं?- 2022

0

Affiliate marketing क्या है ? Affiliate Marketing से free में पैसे कैसे कमाएं?(2022). यह कैसे काम करता है, और एफिलिएट मार्केटिंग से कितना और कहाँ से पैसे कमा सकते है । यह सभी सवाल आपके मन में जरुर आये होंगे । आज हम इस post मे आपके सवालों के जबाव देने वाले है। बस आपको इस पोस्ट को अंत तक पढ़ना होगा और आपको सभी सवालों के जबाव मिल जायेंगे! 

आज के समय में ऑनलाइन शोपिंग का ट्रेंड बहुत तेजी से बढ़ रहा है, लोग market से कम और ऑनलाइन shopping करना ज्यादा बेहतर समझते है, इसी Trend को लोग फॉलो करके e-commerce site बना रहे है, या अपने ब्लॉग, YouTube channel और social media के जरिये Affiliate marketing से अच्छा पैसा कमा रहे है!

Affiliate marketing से वैसे तो पैसे कमाना बहुत ही आसान होता है, परन्तु सभी लोगो को एफिलिएट मार्केटिंग के बारे में सही जानकारी नहीं होती है, जिसके कारण उन्हें एफिलिएट मार्केटिंग से पैसा कमाना कठिन लगता है, लेकिन आज आपको इस विषय पर पूरी जानकारी देंगे जिससे आपको भी एफिलिएट मार्केटिंग से पैसा कमाना बहुत ही आसान लगने लगेगा! चलिए पहले जानते है कि Affiliate marketing क्या है ?

Affiliate marketing kya hai

Affiliate marketing kya haiएफिलिएट मार्केटिंग क्या है?

दोस्तों एफिलिएट मार्केटिंग से पैसे कमाने से पहले हम यह जान लेते है कि Affiliate marketing क्या है? (Affiliate marketing kya hai) तभी आपको पूरी जानकारी मिल पायेगी। एफिलिएट मार्केटिंग का मतलब है, किसी वेबसाइट या product को ऑनलाइन प्रोमोट करना होता है, इसके लिए आपके पास एक ब्लॉग या वेबसाइट होना बहुत जरुरी है, इसके अलावा आप social media के जरिये भी product को प्रोमोट कर सकते है।

इसके लिए आपको Organization, e-commerce site, Affiliate program website को join करना होता है! और उनके product को blog और वेबसाइट पर ads या एफिलिएट लिंक लगाना होता है, और उस link से अगर कोई व्यक्ति product को purchase करता है! तो आपको उसका percent के हिसाब से commission मिलता है।

Affiliate marketing meaning in Hindi

दोस्तों Affiliate marketing का meaning Hindi भाषा में समझे, तो एक blogger एफिलिएट लिंक के जरिये अपने blog और website पर किसी और कंपनी या product का प्रचार करके उसे बेचता है, जिससे उसे sell करने पर percent के हिसाब से कमीशन मिलती है।

Affiliate in Hindi :- एफिलिएट मार्केटिंग करने वाले को Affiliate, Partner, या publisher कहा जाता है। एफिलिएट मार्केटिंग को और भी कई नामो से जाना जाता है, जैसे – network marketing, online marketing, digital marketing आदि।

अगर आपके पास एक ब्लॉग या वेबसाइट है और उस पर अच्छा traffic आता है, तो आप एफिलिएट मार्केटिंग से अच्छा पैसा कमा सकते है। लेकिन आपके ब्लॉग पर कम से कम 3000 से 4000 per day visitor होना चाहिए। अगर आपके पास ब्लॉग या वेबसाइट नहीं है, तो आप social media के जरिये भी product को प्रोमोट कर सकते है। लेकिन social media पर भी आपके पास एक्टिव follower होना बहुत जरुरी है।

Affiliate marketing kaise kaam karta hai

एफिलिएट मार्केटिंग कैसे काम करता है?

Affiliate marketing को समझने के बाद अब समझते है कि एफिलिएट मार्केटिंग कैसे काम करता है? अगर आप ऑनलाइन फील्ड में है, तो आपको यह बात जानना बहुत ही जरुरी है। जब किसी e-commerce website, product based company, अपने product की sell या visitor को बढ़ाना चाहती है, तो वह Affiliate program offer चलाती है।

अब कोई अन्य व्यक्ति जैसे कोई ब्लॉग या वेबसाइट का owner उस program को join करता है, तो वह कंपनी या organization ज्वाइन करने वालो को banner या link प्रदान करती है। और join करने वाला व्यक्ति अपने ब्लॉग पर एफिलिएट banner या link लगाते है। जब कोई व्यक्ति उस link या banner पर करता है, तो वह व्यक्ति डायरेक्ट उस वेबसाइट पर पहुँच जाता है, जहाँ से product को खरीदना होता है।

जब वह व्यक्ति उस product को खरीद लेता है, तब आपको उस product का commission percent के हिसाब से आपके affiliate account में add हो जाता है। क्योंकि सभी एफिलिएट प्रोग्राम कमीशन के हिसाब से ही काम करते है, और सभी product पर अलग-अलग कमीशन मिलता है जैसे – अगर आप fashion से related product है तो उसका कमीशन ज्यादा होता है और electronic product पर कमीशन कम मिलता है।

Best affiliate marketing sites in India

दोस्तों वैसे तो इन्टरनेट पर बहुत सी ऐसी कंपनी और वेबसाइट है, जो Affiliate program offer करती है, लेकिन आज हम आपको कुछ ऐसी वेबसाइट के नाम बताएँगे, Best affiliate marketing sites in India और जो आपको अच्छा कमीशन देती है। किसी भी कंपनी के एफिलिएट प्रोग्राम को join करने से पहले उस कंपनी की सारी जानकारी आपको लेना चाहिए। उसके बाद ही आपको उनका एफिलिएट प्रोग्राम join करना चाहिए।

अगर आपको पता करना है कि कौन सी कंपनी एफिलिएट प्रोग्राम ऑफर करती है तो आपको search engine में उस कंपनी के नाम के साथ Affiliate type करना है और अगर वह कंपनी अगर affiliate program offer करती है तो उसका result आपके सामने आ जायेगा। चलिए अब आपको कुछ मुख्य वेबसाइट के नाम बताते है जिनसे आप अच्छा commission ले सकते है।

Best Affiliate Marketing Sites

Affiliate marketing से related जानकारी

दोस्तों एफिलिएट मार्केटिंग में कुछ महत्वपूर्ण term उपयोग होती है, जिन्हें आपको जानना आपके लिए बहुत ही जरुरी है, तभी आपको Affiliate marketing के विषय में पूरी जानकारी मिल पायेगी। तो चलिए जानते है कि वह कौन सी term है।

एफिलिएट आईडी क्या है?

जब हम एफिलिएट program को join करने के लिए sing-up करते है, तब हमे एक Unique ID दी जाती है, यह Unique ID एफिलिएट आईडी (Affiliate ID) कहलाती है। यह यूनिक आईडी सेल्स में जानकारी जुटाने में मदद करती है, इस ID के द्वारा आप एफिलिएट अकाउंट को लॉग इन भी कर सकते है।

Affiliates क्या है?

वह व्यक्ति/ब्लॉगर जो एफिलिएट प्रोग्राम को join करके अपने ब्लॉग, वेबसाइट या social media के जरिये product को प्रमोट करते है उन्हें Affiliates कहते है।

Affiliate link क्या है?

किसी भी product को प्रमोट करने के लिए हमे Affiliate program को join करने वाली site से product का link generate करना होता है। यह लिंक Affiliate link कहलाता है। Affiliate link को ही ब्लॉग वेबसाइट पर लगाया जाता है, इन links पर click करके visitor सीधे product की website पर पहुँच जाता है। इन link की मदद से एफिलिएट प्रोग्राम चलाने वाले product की sells को track करते है।

Affiliate Marketplace क्या है?

जो कंपनिया अलग-अलग categories में एफिलिएट प्रोग्राम ऑफर निकलती है, Affiliate Marketplace कहा जाता है।

Link Clocking क्या है?

एफिलिएट लिंक देखने में बहुत लम्बे और अजीब generate होते है, और काफ़ी ज्यादा space घेरते है, इन्हें link shortners की मदद से छोटा बनाया जाता है, जिससे यह कम space ले, और देखने में भी सुंदर लगे। बस इसे ही link clocking कहा जाता है।

Commission क्या है?

Affiliate marketing में ज्यादातर पेमेंट Commission base पर ही होती है, परन्तु कई एफिलिएट प्रोग्राम में पेमेंट एक fix amount भी हो सकती है, यह एफिलिएट प्रोग्राम को join करते समय आपको term & condition mention कर दी जाती है। Affiliate marketing में जब आप किसी product को sell करते है, और वह product successfully sell होने के बाद आपको उस product के price के हिसाब से कुछ percent amount आपको दिया जाता है उसे Commission कहा जाता है।

Payment Mode क्या है?

वह माध्यम जिसके द्वारा आपके पास commission भेजी जाती है, उस तरीके को payment mode कहते है। सभी एफिलिएट program चलाने वालो का commission देने का तरीका अलग-अलग हो सकता है। जैसे-wire transfer, wallet, या cheque के द्वारा ।

Affiliate marketing se paise kaise kamaye

Affiliate Marketing से free में पैसे कैसे कमाएं? – Affiliate marketing se paise kaise kamaye

दोस्तों एफिलिएट मार्केटिंग क्या है? यह समझने के बाद अब हम ये समझते है कि Affiliate Marketing से free में पैसे कैसे कमाएं? (Affiliate marketing se paise kaise kamaye). दोस्तों अगर आप एक ब्लॉगर है, और Blogging करते है, तो आप Affiliate marketing से अच्छा पैसा कमा सकते है। बस आपके ब्लॉग पर अच्छा traffic होना चाहिए है। बहुत से ब्लॉगर एफिलिएट मार्केटिंग के जरिये google adsense से भी ज्यादा पैसे कमाते है।

Affiliate marketing से पैसा कमाना सबसे आसान तरीका है, इसके लिए आपको एफिलिएट प्रोग्राम ऑफर करने वाली कंपनी या वेबसाइट को register करना होता है, जो कि बिलकुल free होता है। सभी कंपनिया एफिलिएट प्रोग्राम को free ही offer करती है क्योंकि उन्हें अपने product की sell को बढ़ाना होता है। Affiliate program को join करने के बाद आपको एफिलिएट लिंक या banner दिए जाते है, जिन्हें आपको अपने ब्लॉग या वेबसाइट पर लगाना होता है।

अब आपके ब्लॉग पर जितने भी visitor आयेंगे, उनमे से अगर किसी को भी आपका product पसंद आता है, तो वह उस product को click करेगा और वह सीधे product की वेबसाइट पर पहुच जायेगा। अगर click किये गए product की sell successfully होती है, आपको उस product की percent के हिसाब से commission आपको मिल जाती है।

लेकिन अभी भी आपके मन में यह सवाल जरुर होगा कि वह कौन सी कंपनिया है जो Affiliate program Offer करती है । तो दोस्तों इन्टरनेट पर ऐसी बहुत सी कंपनी है जो एफिलिएट प्रोग्राम ऑफर करती है, जिनमे से कुछ popular कंपनी के नाम जरुर बताना चाहूँगा। और इन सभी कंपनी को आप बहुत ही अच्छे तरीके जानते भी है जैसे – Amazon, flipkart, snapdeal, ebay, hostgater, hostinger, godaddy आदि।

इन सभी कंपनियों के Affiliate program join करने के लिए इन कंपनी के नाम के Affiliate लगा कर google पर search करें। और Affiliate program की site पर sing-up कर सकते है। वो भी बिलकुल free में आपको कोई भी pay नहीं करना होता है।

Amazon Affiliate marketing क्या है?Amazon affiliate marketing in Hindi

एफिलिएट मार्केटिंग को समझने के बाद अब हम Amazon Affiliate marketing क्या है? (Amazon affiliate marketing in Hindi) और इसे कैसे शुरू कर सकते है, इस विषय पर जानकारी देंगे। दोस्तों Amazon e-commerce website के बारे में आज समय में शायद ही ऐसा कोई व्यक्ति होगा, जिसे amazon के बारे में पता नहीं हो। क्योंकि दोस्तों Amazon आज के समय में दुनिया की सबसे बड़ी वेबसाइट और सबसे ज्यादा traffic लेने वाली site है, और आज के समय में लोग market से कम और ऑनलाइन shopping करना ज्यादा बेहतर समझते है।

लेकिन दोस्तों सभी लोगो को amazon Affiliate marketing program के बारे में पता नहीं होता है, ज्यादातर लोगो को amazon से सिर्फ shopping के बारे में ही जानते है। amazon दुनिया की सबसे बड़ी e-commerce website है, इसलिए लोग इस वेबसाइट और उसकी service पर भरोसा करते है। यही कारण है कि Amazon Affiliate marketing करना और भी आसान हो जाता है, क्योंकि जब भी आप amazon के product को प्रमोट करते है, तो लोग उसे खरीदने के लिए बड़ी आसानी से तैयार हो जाते है।

Amazon पर Affiliate marketing करना बहुत ही आसान है, क्योंकि amazon पर सभी प्रकार की Category के product Available होते है, जो लोगो के इस्तेमाल में आते है। आप इन सभी category के product को प्रमोट करके अच्छा पैसा कमा सकते है।

Amazon Affiliate marketing program को कैसे शुरू करें?

दोस्तों अब बात करेंगे कि हम amazon Affiliate marketing program को कैसे शुरू करें? अब तक आपको एफिलिएट मार्केटिंग के बारे में बहुत सी जानकारी मिल गई होगी अब जानते है Affiliate marketing को join कैसे करे? इसमें क्या-क्या document लगते है ? दोस्तों वैसे तो आप भी website का एफिलिएट प्रोग्राम को join करने के लिए same प्रोसेस होती है। और document भी same ही मांगे जाते है।

एफिलिएट प्रोग्राम को शुरू करने के लिए कुछ जरुरी details भरनी होती है, और बड़ी आसानी से एफिलिएट प्रोग्राम को join कर सकते है। इसके लिए आपको Amazon associate program को join करना होता है, जो Amazon का Affiliate program है।

  • Full name (पूरा नाम )
  • Email address (ईमेल पता)
  • Pan card details (पैन कार्ड नंबर)
  • Mobile number(मोबाइल नंबर)
  • Address (पता)
  • Blog/Website Url
  • Payment received account Details

दोस्तों बस यही सभी details को एफिलिएट प्रोग्राम को join करने के लिए भरना होता है, जब आप ये सारी details भर कर सबमिट कर देंगे, तो आपके Mail ID पर एफिलिएट प्रोग्राम join करने के confirmation का mail आ जायेगा। अब आपको लॉग इन करना है, लॉग इन करने के बाद आप वेबसाइट के डैशबोर्ड पर आ जायेंगे। अब product के एफिलिएट लिंक या banner generate करना होता है। अब आपको इन banner और links को अपने ब्लॉग और वेबसाइट पर लगाना होता है। इस तरह एफिलिएट मार्केटिंग को शुरू कर सकते है।

Affiliate marketing से Payment कैसे मिलती है?

दोस्तों सभी Affiliate program में पेमेंट करने का तरीका अलग-अलग हो सकता है, ये एफिलिएट प्रोग्राम चलाने वाले के ऊपर निर्भर करता है, कि वह आपको payment किस माध्यम से भेजता है। लेकिन के आज के समय में सभी लोग payment wire transfer ही करना पसंद करते है। आप जो भी product sell करते है उसकी पेमेंट डैशबोर्ड के वॉलेट में ही रहती है, month की एक fix date पर आपके दिए गए account में ट्रान्सफर कर डी जाती है।

दोस्तों हर एफिलिएट प्रोग्राम के आपको commission देने के अलग अलग तरीके होते है। वह तरीके निम्नलिखित है –

1. CPC (Cost per click)

CPC का मतलब है Cost per click. इसका मतलब यह है कि आपके द्वारा ब्लॉग या वेबसाइट पर लगाये गए banner या links पर कितने click होते है उसी हिसाब से आपको commission मिलती है।

2. CPS (Cost Per Sale)

CPS का मतलब है cost per sell. इस condition में product के successfully sell होने पर ही आपको commission मिलाता है, आप कितने product sell करते है उसी हिसाब से आपको commission डी जाती है।

3. CPM (Cost Per 1000 impressions)

यह एक fix amount होती है, जो आपके द्वारा ब्लॉग या वेबसाइट पर लगाये गए, banner या links पर जब 1000 impression के हिसाब से दी जाती है, आपके site पर कितने visitor आते है, और Total impression कितने आते है उसी हिसाब से आपका commission बनता है।

एफिलिएट मार्केटिंग से संबंधित सवाल-जबाव

एफिलिएट मार्केटिंग कैसे ज्वाइन करें?

एफिलिएट मार्केटिंग को ज्वाइन करने के लिए आपको किसी भी एक category पर ब्लॉग create करना होगा और उस ब्लॉग के माध्यम से आप किसी भी वेबसाइट के एफिलिएट प्रोग्राम को ज्वाइन कर सकते है। join करने के बाद आप जिस product को प्रमोट करना चाहते है, उसका अपने ब्लॉग पर review करके उस product का link दे सकते है और पैसे कमा सकते है।

Amazon affiliate marketing program क्या है?

Amazon affiliate marketing program में product की sell को बढ़ाने के लिए commission based पर ऑफर दिए जाते है, जिन लोगो के पास ब्लॉग या social media पर अच्छा traffic होता है। वह लोग इस program को join करते है, और अपने source के द्वारा product को प्रोमोट करते है, बदले में प्रमोटर को कुछ percent commission दिया जाता है। यह प्रक्रिया Amazon affiliate marketing program कहलाता है।

नेटवर्क मार्केटिंग क्या है?

नेटवर्क मार्केटिंग में किसी भी कंपनी के product को सीधे costumer के पास भेजा जाता है, इस प्रकिया में किसी भी दुकान का इस्तेमाल नहीं किया जाता है। जिससे costumer को कंपनी के price पर ही costumer तक product पहुच जाता है, इससे costumer को कंपनी की ओर अच्छा डिस्काउंट या कैशबैक मिल जाता है। यह प्रोसेस नेटवर्क मार्केटिंग कहलाती है।

अमेजॉन एसोसिएट क्या है?

अमेजॉन एसोसिएट क्या है? Associate का Hindi अर्थ होता है “सहयोगी”। आसान भाषा में कहे तो आप amazon के एफिलिएट program को join करने के बाद amazon की sell को बढ़ाने के लिए सहयोगी बन जाते है, जिसे अमेजॉन एसोसिएट कहा जाता है। amazon associate एक Affiliate program है, जो world में बहुत ही popular है और इसे join करके product को प्रोमोट कर लाखो रुपये कमा रहे है।

Affiliate Marketing से कितने पैसे कमा सकते है?

Affiliate marketing से कितना पैसा कमा सकते है यह बताना बहुत ही मुश्किल है क्योंकि यह आपके ऊपर ही निर्भर करता है कि आप अपने वेबसाइट या ब्लॉग पर कितने visitor लाते है और कितने product को sell करा पाते है उसी आधार पर आपकी commission बनती है। जिनके पास अच्छा traffic है वह महीने में लाखो रुपये भी कमाते है।

Conclusion

दोस्तों एफिलिएट मार्केटिंग क्या है? इससे पैसे कैसे कमाते है? इस विषय पर आपको पूरी जानकारी मिल गई हो गई, आशा करता हूँ कि Affiliate marketing के बारे में आपको सही जानकारी मिली होगी, दोस्तों अगर अभी भी आपको कुछ प्रश्न है तो आप कमेंट करके पूछ सकते है। और आपको हमारी वेबसाइट के article कैसे लग रहे है हमे जरुर बताएं और अपने दोस्तों को भी share करे ताकि वह एफिलिएट मार्केटिंग से पैसा कमा सके। धन्यवाद !

यह भी पढ़ें :-

Samagra ID में नए सदस्य का नाम कैसे जोड़े?- 100% Free 2022

1

हेल्लो दोस्तों आज कि इस पोस्ट में Samagra ID में नए सदस्य का नाम कैसे जोड़े ? (2022) इस बारे में पूरी जानकारी देने वाले है, कि आप घर बैठे samagra id registration online कर सकते है, बस आपको इस पोस्ट को अंत तक पढना है, और आप अपने नए सदस्य का नाम समग्र परिवार आईडी में जोड़ सकते है !

समग्र आईडी में नाम जोड़ने से पहले समग्र आईडी के बारे में कुछ महत्वपूर्ण जानकारी बताना चाहूँगा, कि समग्र आईडी क्या है , इसके क्या लाभ है, और यह आपके लिए क्यों जरुरी है, ताकि आप लोगो समग्र आईडी के बारे में पूरी जानकारी मिल सके, तो चलिए सबसे पहले जानते है कि समग्र आईडी क्या है ?

समग्र आईडी क्या है ?(Samagra ID kya hai)

समग्र आईडी में नाम जोड़ने से पहले हम जान लेते है, कि आखिर समग्र आईडी क्या है ?(samagra ID kya hai). समग्र आईडी (SSSM ID)एक प्रकार की आईडी है, जो मध्यप्रदेश सरकार के द्वारा MP के नागरिको को दी गई है ! मध्यप्रदेश सरकार अपने नागरिकों को आने वाली योजनाओ का लाभ समग्र आईडी के द्वारा प्रदान करती है, और इसके द्वारा मध्यप्रदेश सरकार के पास राज्य के नागरिको का डाटा भी रहता है !

अगर आपके पास समग्र आईडी नहीं है या आपका नाम समग्र परिवार आईडी में नहीं जुड़ा है, तो आप मध्यप्रदेश सरकार की योजनाओ का लाभ नहीं ले सकते है, जिस तरह प्रत्येक व्यक्ति के पास आधार कार्ड का होना जरुरी है, उसी प्रकार मध्यप्रदेश के नागरिकों के लिए समग्र आईडी होना जरुरी है !

समग्र आईडी कितने प्रकार होती है ?

Samagra ID दो प्रकार की होती है –

  1. परिवार समग्र आईडी (Family Samagra ID) – परिवार समग्र आईडी 8 अंको की होती है और Family Samagra ID के द्वारा आप परिवार के सभी सदस्यों की सूची को देख सकते है !
  2. सदस्य समग्र आईडी (Member Samagra ID) – सदस्य समग्र आईडी 9 अंकों की होती है, और Member Samagra ID के द्वारा आप केवल एक ही सदस्य जिसकी ID है उसी की जानकारी ले सकते है !

समग्र आईडी में नाम जोड़ने के लिए आवश्यक डॉक्यूमेंट

  • Active Mobile Number (सक्रिय मोबाइल नंबर ) OTP verification के लिए
  • Family Samagra ID (परिवार समग्र आईडी)

पहचान के लिए निम्नलिखित document मे से किसी एक दस्तावेज को अपलोड करना है, Document का Size 600KB से कम होना चाहिए !

  1. 10th Marksheet (10वीं अंक सूची)
  2. Aadhaar Card (आधार-कार्ड नंबर)
  3. Voter ID Card  (मतदाता पहचान पत्र)
  4. Ration Card  (राशन कार्ड)
  5. Pan Card (पेन कार्ड)
  6. Passport (पासपोर्ट)
  7. Driving License (ड्राईविंग लाइसेंस)
  8. Official introduction letter (कार्यालीन सूचना आदेश)
  9. Identity card issued by public sector unit (सार्वजनिक क्षेत्र द्वारा जारी पहचान पत्र)
  10. Certificate of disability issued by the Medical Board  (मेडिकल बोर्ड द्वारा जारी निःशक्तता का प्रमाण पत्र मेडिकल बोर्ड द्वारा जारी विकलांगता प्रमाण-पत्र)

samagra id me naam kaise jode

Samagra ID में नए सदस्य का नाम कैसे जोड़े ? (2022) – Samagra ID me naam kaise jode

दोस्तों समग्र आईडी के बारे में पूरी जानकारी मिल गई होगी, अब नए सदस्य को samagra ID में कैसे जोड़ें?  इसके बारे में बात करेंगे ! अगर आपके परिवार में किसी सदस्य का नाम समग्र आईडी में नहीं जुड़ा है, या आपके घर कोई नया member add हुआ है, तो आप उसका नाम समग्र पोर्टल पर जाकर बड़ी आसानी से घर बैठे ऑनलाइन ही जोड़ सकते है !

समग्र आईडी में नाम जोड़ने के लिए आपके पास ऊपर बताये गए दस्तावेज होना आवश्यक है तभी आप Samagra ID में नाम को जोड़ सकते है, मैंने नीचे step by step बताया है, बस आपको इन step को फॉलो करना है ! तो चलिए दोस्तों जानते है कि हम Samagra ID में नए सदस्य का नाम कैसे जोड़े ? (2022) – Samagra ID me naam kaise jode.

Step-1 ⇒ Samagra ID में नये सदस्य का नाम जोड़ने के लिए आपको मध्यप्रदेश सरकार की ऑफिसियल साइट समग्र नागरिक सेवा पोर्टल पर जाना होगा ! इसके बाद सदस्य पंजीकृत करें पर click करे !

samagra ID nagrik seva portal

Step-2⇒ अब आपको स्क्रॉल डाउन करना है, अब समग्र परिवार आईडी टाइप करे, फिर Captcha टाइप करे और Get Family details पर click करे !

Add samagra Family ID

Step-3 ⇒ इसके बाद आपके सामने परिवार के सभी सदस्यों के नाम और समग्र आईडी दिखाई देगी, नीचे आपको Add Family Members का आप्शन दिखाई देगा, आपको Add Member पर click करना है !

family member details

Step-4 ⇒ अब आपको Family Members की details भरना है ! सभी जानकारी आपको डॉक्यूमेंट के आधार पर ही भरना है, जिसमे आपको हिंदी और इंग्लिश में first name और last name देना है, Hindi typing के लिए Google Input tools का प्रयोग कर सकते है, अब Date of birth, age,gender, married status, Relation with family, मोबाइल नम्बर, आधार कार्ड नम्बर, और इमेल आईडी को टाइप करके ADD MEMBER IN FAMILY पर click करें !

Family Members details form

Step-5 ⇒ अब आपको समग्र आईडी में नए सदस्य का नाम जोड़ने के लिए जो मैंने ऊपर दस्तावेज बताये थे उनमे से किसी एक को Upload करना है, और उसकी details देना है! अब आपको REGISTER MEMBER REQUEST  पर click करना है !

samagra id document upload form

Step-6 ⇒ अब आपको OTP verification करना होगा दिए मोबाइल पर OTP आएगा उसे टाइप करे, फिर captcha टाइप करे ! और confirm your request पर click करें! इसके बाद आपके मोबाइल पर एक Request ID आ जाएगी, जिसके द्वारा आप की गई request की जानकारी को देख सकते है!

इस तरह आप घर बैठे  समग्र आईडी में नए सदस्य का नाम जोड़ सकते है !

समग्र आईडी से सम्बंधित सवाल -जवाब

समग्र आईडी कितने दिन में बनती है?

समग्र आईडी में Apply करने के बाद दो से तीन दिनों का समय लगता है, समग्र आईडी बनने के बाद आपके रजिस्टर किये गए मोबाइल पर SMS के द्वारा समग्र आईडी को भेज दिया जाता है!

ऑनलाइन समग्र आईडी कैसे बनाएं?

ऑनलाइन समग्र आईडी बनाने के लिए आपको समग्र नागरिक सेवा पोर्टल पर जाना है, और दिए गए Form में document के आधार पर details भरे, अब जरुरी दस्तावेज को अपलोड करे, अब form को सबमिट करें ! फिर आपको e-KYC complete करना है, इस process के बाद दो से तीन दिनों के अंदर आपकी समग्र आईडी बन जाएगी !

परिवार आईडी में नाम कैसे जोड़ते हैं?

Step-1 ⇒ Samagra ID में नये सदस्य का नाम जोड़ने के लिए आपको मध्यप्रदेश सरकार की ऑफिसियल साइट समग्र नागरिक सेवा पोर्टल पर जाना होगा ! इसके बाद सदस्य पंजीकृत करें पर click करे !
Step-2⇒ अब आपको स्क्रॉल डाउन करना है, अब समग्र परिवार आईडी टाइप करे, फिर Captcha टाइप करे और Get Family details पर click करे !
Step-3 ⇒ इसके बाद आपके सामने परिवार के सभी सदस्यों के नाम और समग्र आईडी दिखाई देगी, नीचे आपको Add Family Members का आप्शन दिखाई देगा, आपको Add Member पर click करना है !
Step-4 ⇒ अब आपको Family Members की details भरना है ! सभी जानकारी आपको डॉक्यूमेंट के आधार पर ही भरना है, ADD MEMBER IN FAMILY पर click करें !
Step-5 ⇒ जरुरी दस्तावेज को अपलोड करे, अब form को सबमिट करें, अब आपको REGISTER MEMBER REQUEST  पर click करना है ! फिर आपको e-KYC complete करना है,
इस तरह परिवार आईडी में नाम जोड़ सकते है

 

Bank Of Baroda Net Banking Registration कैसे करे?- Free 2022

0

हेल्लो दोस्तों आज की इस पोस्ट में हम Bank of Baroda net banking registration कैसे करे?(2022) Internet banking को online और Offline दो तरह से registration कर सकते है! अगर आप भी Bank Of Baroda के यूजर है ! तो या पोस्ट आपके बहुत काम आने वाली है! बस आपको इस पोस्ट को अंत तक Step by Step पढ़ना है और आप घर बैठे ही Bank of Baroda की net banking registration कर सकते है !

अगर आपके पास बैंक ऑफ़ बड़ोदा का अकाउंट नहीं है, और आप घर बैठे ऑनलाइन BOB में अकाउंट खोलना चाहते है, तो नीचे दी गई पोस्ट को पढ़कर आसानी से account open कर सकते है !  दोस्तों अगर आप State bank of India और IDBI bank के costumer भी है, तो आप इनकी Net banking का भी online Registration भी कर सकते है!

यह भी पढ़े :- बैंक ऑफ़ बड़ोदा में खाता कैसे खोले ?

Bank Of Baroda Bank Details in Hindi – बैंक ऑफ़ बडौदा बैंक की जानकारी

Bank of baroda की स्थापना 20 जुलाई 1908 में हुई थी, इसका मुख्यालय अल्कापुरी बड़ोदरा गुजरात में स्थित है, बैंक ऑफ़ बड़ोदा भारत का दूसरा सबसे बड़ा पब्लिक सेक्टर बैंक है ! इस बैंक पास 9500 ब्रांचे,13,400 एटीएम, 12 करोड़ ग्राहक, और 85 हजार से अधिक कर्मचारी है ! जिसके कारण यह बैंक भारत में दूसरे स्थान पर है !

देना बैंक और विजय बैंक  2018 में अलग थी, परन्तु 2019 से इन दोनों बैंको को bank of baroda में मिला दिया  है, और अब देना बैंक और विजय बैंक के ग्राहकों को भी बैंक ऑफ़ बड़ोदा में जोड़ दिया गया है! Stock market में यह बैंक NSE और BSE दोनों में listed है !

बैंक ऑफ़ बडौदा में इन्टरनेट बैंकिंग के लाभ

यदि आपकी बैंक ऑफ़ बडौदा में इन्टरनेट बैंकिंग चालू है, तो आपको  इसके बहुत से लाभ मिलने वाले है। Bank Of Baroda Net banking  की मदद से आपका बहुत सारा समय बच सकता है, क्योंकि बैंक के छोटे- छोटे कामों के लिए भी हमे  bank जाना पड़ता है। जैसे – यदि आपको आपका मोबाइल नंबर change कराना है, bank account की details निकलना।  लेकिन Net banking की मदद से आप अपना bank account घर बैठे manage कर सकते है !

Bank of Baroda net banking के और बहुत से लाभ है नीचे मैंने कुछ प्रमुख लाभ बताये है-

  1. Easy money Transfer करना !
  2. Instant account Transaction चेक करना !
  3. ATM, Credit card को इन्टरनेट बैंकिंग की मदद से आप बदले या बंद कराने की request भेज सकते है !
  4. अपने बैंक खाते के संबंधी जानकारी तथा इसकी स्थिति देखना !
  5. किये गए बैंकिंग लेनदेन का पता करना और विवरण देखना !
  6. बैंक चेक की स्थिति पता करना !
  7. Bank account में बकाया राशि चेक करना !
  8. किसी भी तरह की ऑनलाइन पेमेंट करने की सुविधा
Bank Of Baroda Net Banking Registration कैसे करे

बैंक ऑफ़ बडौदा इन्टरनेट बैंकिंग चालू कैसे करें – Bank of Baroda net banking Registration kaise karen ?

अब आपको बैंक ऑफ़ बडौदा और इन्टरनेट बैंकिंग के बारे में पूरी जानकारी मिल गई है चलिए दोस्तों अब हम जानते है कि bank of baroda net banking registration कैसे करे ? आपको बैंक जाने की भी जरुरत नहीं है आप घर बैठे ही ऑनलाइन BOB की Net banking को चालू कर सकते है, बस आपको नीचे दी स्टेप को फ़ॉलो करना है और पोस्ट के अंत तक BOB net bainking शुरू पाएंगे !

BOB internet banking को दो प्रकार से Registration कर सकते है, पहला तरीका जिसमे offline नेट बैंकिंग को चालू कर सकते है, और दूसरा तरीका जिसमे हम Online Bank of baroda net banking registration कर सकते है ! आपको हम दोनों तरीको के बारे में बताएँगे !

बैंक ऑफ़ बडौदा इन्टरनेट बैंकिंग के लिए दस्तावेज

  • बैंक ऑफ़ बड़ोदा में अकाउंट
  • BOB से लिंक ईमेल अकाउंट
  • BOB अकाउंट से लिंक मोबाइल नंबर
  • बैंक ऑफ़ बड़ोदा ATM Card

Bank of Baroda net banking Registration Offline

Bank of Baroda Net banking Offline Registration करना भी बहुत आसान है ! पर इसके लिए आपको बैंक जाना होता है ! बैंक में आपको internet banking को Activate करने के लिए form भरकर देना होता है ! यह Form आप बैंक से भी ले  सकते है और बैंक ऑफ़ बड़ोदा  की Official site  से भी डाउनलोड कर सकते है ! उसके बाद आपको बैंक से इन्टरनेट बैंकिंग की KIT दी जाती है जिसमे आपको Temporary Password दिया जाता है !

अब आपको login पेज पर आना है और अपनी Customer ID और Temporary password टाइप करे ! इस  Temporary password की मदद से आप आसानी से लॉग इन कर सकते है अब आपको User name और  password क्रिएट करना है !

Bank of Baroda net banking Registration Online कैसे करे ?

दोस्तों Bank of Baroda में Online Net banking Registration करना बहुत ही आसान है, BOB net banking के लिए आपके पास ऊपर दिए गए दस्तावेज है, तो आप घर बैठे ही BOB ऑनलाइन इन्टरनेट बैंकिंग को चालू कर सकते है ! बस आपको नीचे दी गई स्टेप्स को फॉलो करना है !

Step – 1

सबसे पहले बैंक ऑफ़ बड़ोदा की Official website (www.bankofbaroda.in) पर जाये और Internet banking को सेलेक्ट करें !

BOB internet banking

Step – 2

अब आपके सामने एक नया pop-up खुलेगा जिसमे से Retail User Login पर click करें !

Step-3

अब आपके सामने एक नया window open होगा, जो लॉग इन पेज है यहाँ आपको Online Registration Using Debit Card पर click करना है !

Step-4

इसके बाद दिया गया Captcha Code टाइप करना है और Continue बटन पर click करें !

Step-5

फिर आपको Debit Card की details भरना है, जिसमे आपको पहले Card Number फिर Card की Expiry date, ATM Pin और Characters को टाइप करना है उसके बाद Validate बटन पर click करें!

Step-6

स्टेप 5 में आपको 3 आप्शन को complete करना है।

  • पहली step में OTP verification करना है यह OTP आपके रजिस्टर मोबाइल नंबर और ईमेल पर आएगा।
  • दूसरी step में आपको User Name या User ID को क्रिएट करना है, यूजर ID को Latter और number का उपयोग करके बनाये ! ध्यान रहे User ID को हम एक ही बार बना सकते है और इसे change भी नहीं कर सकते है इसलिए User ID को अच्छे सोच समझ कर बनाये।
  • अब आपको View & transaction right को सेलेक्ट करें।

Step-7

BOB net banking password कैसे बनाये ?

दोस्तों सभी लोगो को यह जानकारी नहीं होती है कि एक Strong password कैसे बनाये ? BOB net banking में सबसे Important पासवर्ड को बनाना है, पासवर्ड को क्रिएट करने के लिए आपको कुछ जरुरी बाते ध्यान रखना चाहिए ! पासवर्ड क्रिएट करने में हमेशा capital letter, symbol, digit को प्रयोग करते हुए पासवर्ड create करे! और कभी भी password में अपना नाम, Date of Birth या मोबाइल number का उपयोग नही करना चाहिए !

क्योंकि इन्हें कोई भी अनुमान लगा कर आपका पासवर्ड पता लगा सकता है ! password बनाने से पहले उसे किसी blank Paper पर Note कर ले ! सबसे पहले हम लॉग इन पासवर्ड बनायेंगे ! तो चलिए password को क्रिएट करते है जैसा आपको बताया गया है उसी प्रकार password इंटर करे, और एक बार फिर same पासवर्ड को टाइप करे !

अब नीचे वाले सेक्शन में आपको Transaction password क्रिएट करना है ! यहाँ आपको पासवर्ड को थोडा बहुत change करना है और दोनों जगह Transaction password में same पासवर्ड इंटर करे ! और Continue बटन पर click करे !

Step-8

Bank of baroda net banking में first time login कैसे करें ?

Bank of Baroda net banking registration करने के बाद First time Login कैसे करे, यह जानना आपके लिए बहुत ही जरुरी है, क्योंकि अभी तक आपकी प्रोसेस complete नहीं हुई है !

  • सबसे पहले लॉग इन पेज जायें,
  • इसके बाद User ID टाइप करे,और लॉग इन बटन पर click करे,
  • अब Captcha और password टाइप करे और  फिर से Log-in बटन पर click करें !
  • फिर आपको OTP Verification करना है !
  • इसके बाद आपको personal message टाइप करना है, message में Alphabets और number का उपयोग करे !
  • BOB net banking में आपको कुछ Question दिए गए है उनमे से आपको 5 Question सेलेक्ट करना है और उनके Answer भी देना है,इन सभी Question और Answer को हमेशा याद रखे क्योंकि यही Question आपको password को reset करने में काम आने वाले है !
  • अब आपको password को दुवारा से सेट करना है, जो password आपने बनाया है पहले उसे टाइप करें, फिर New password टाइप करे , एक बार फिर से same New password टाइप करे, और last में आपको transaction password टाइप करना है और Register बटन पर click करें !
  • अब आपके सामने message में show होगा, The password is changed successfully. अब log out बटन पर click करे !
  • अब आपकी बैंक ऑफ़ बड़ोदा की इन्टरनेट बैंकिंग पूरी तरह Active हो गई है !

Bank of Baroda net banking से सम्बंधित सवाल-जबाव

प्रश्न – बैंक ऑफ बड़ौदा यूजर आईडी कैसे पता करें?

उत्तर – बैंक ऑफ बडौदा की यूजर आईडी पासबुक पर ही प्रिंट होती है, जहाँ आपकी सारी details प्रिंट रहती है, यह आपकी पासबुक पर costumer ID के नाम से भी हो सकती है।

प्रश्न – बैंक ऑफ बड़ौदा का आईएफएससी कोड कैसे चेक करें?

उत्तर – बैंक ऑफ बड़ौदा का आईएफएससी कोड SMS के द्वारा पता कर सकते है, इसके लिए MIGR <Space> अकाउंट नंबर के अंत के चार अंक को “8422009988” पर भेजकर भी आईएफएससी कोड का पता कर सकते हैं। इसके अलावा आप टोल फ्री नंबर 18002584455/18001024455 पर फोन करके भी इसका पता कर सकते हैं। और आपकी पासबुक पर भी प्रिंट रहता है।

प्रश्न – बैंक ऑफ बड़ौदा का कस्टमर केयर नंबर क्या है?

उत्तर- बैंक ऑफ बड़ौदा का costumer care number – 1800 102 4455

दोस्तों मै आशा करता हूँ कि मेरे द्वारा डी गई जानकारी से आपने BOB net banking को Active कर लिया होगा ! आपको यह Article कैसा लगा, और आपको Bank of Baroda net banking registration करने में कोई भी परेशानी आती है तो आप कमेंट में पूछ सकते है, इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ जरुर share करे ! धन्यवाद 

यह भी पढ़े :- 

Bank Of Baroda Online Zero Balance Account Open कैसे करे? free -2022

1

नमस्कार दोस्तों , आज की इस पोस्ट में हम Bank Of Baroda Online Zero Balance Account Open कैसे करे? – 2022. इस बारे विस्तार से बात करने वाले है, अगर आप भी Bank Of Baroda में online Saving account open करना चाहते है, तो आप सही पोस्ट पढ़ रहे है !

आज की इस पोस्ट में हम बैंक ऑफ़ बड़ौदा में ऑनलाइन अकाउंट खोलने की सारी प्रोसेस step step बताएँगे ! जिससे आप बड़ी आसानी से ऑनलाइन Zero balance account open कर पायेंगे! बस आपको बताई गई step को फॉलो करना है ! इस पोस्ट के अंत तक आप बैंक ऑफ़ बड़ौदा में अपना zero balance account खोल पायेंगे !

Table of Contents

Bank of Baroda details in Hindi – बैंक ऑफ़ बड़ौदा की जानकारी 

दोस्तों Bank of Baroda में saving account करने से पहले हम आपको इस बैंक की जानकारी देना चाहेंगे ! बैंक ऑफ़ बड़ौदा भारत का दूसरा सबसे बड़ा पब्लिक सेक्टर बैंक है ! इस बैंक पास 9500 ब्रांचे,13,400 एटीएम, 12 करोड़ ग्राहक, और 85 हजार से अधिक कर्मचारी है ! जिसके कारण यह बैंक भारत में दूसरे स्थान पर है ! जब से प्रधानमंत्री जी के द्वारा लोगो के zero balance account खुलवाये गए है तब से बैंक ऑफ़ बड़ौदा के ग्राहकों की संख्या भी काफ़ी ज्यादा बढ़ गई है !

Bank of baroda की स्थापना 20 जुलाई 1908 में हुई थी, इसका मुख्यालय अल्कापुरी बड़ोदरा गुजरात में स्थित है, Bank of Baroda में ऑनलाइन खाता खोलने की सुविधा प्रदान करती है, यह बैंक आपको बहुत सारी सुविधा देती है जिनके विषय में भी हम आगे बात करने वाले है !

बैंक ऑफ़ बड़ौदा जीरो बैलेंस अकाउंट में क्या क्या सुविधा मिलती है ?

बैंक ऑफ़ बड़ौदा जीरो बैलेंस अकाउंट में हमें निम्नलिखित सुविधा मिलती है –

  • डेविड कार्ड (Debit Card) की सुविधा
  • इन्टरनेट बैंकिंग (Internet Banking) की सुविधा
  • मोबाइल बैंकिंग (Mobile Banking) की सुविधा
  • SMS Alert की सुविधा
  • UPI Transaction की सुविधा
  • चैक बुक (Cheque Book) की सुविधा

बैंक ऑफ बड़ौदा में अकाउंट खोलने के लिए क्या क्या डॉक्यूमेंट लगते हैं?

BOB बैंक में खाता खोलने से पहले आपको यह पता होना जरुरी है कि बैंक ऑफ बड़ौदा में अकाउंट खोलने के लिए क्या क्या डॉक्यूमेंट लगते हैं? इन सभी डॉक्यूमेंट की जानकारी नीचे डी गई है अगर आपके पास ये सभी डॉक्यूमेंट है तो आप BOB बैंक में Online saving account open कर सकते है !

  • PAN CARD (पैन कार्ड )
  • Aadhar Card (आधार कार्ड)
  • आधार कार्ड से link मोबाइल नंबर
  • Valid Email ID
  • आपकी उम्र 18 साल से ऊपर होनी चहिये
  • आपका पहले से bank of baroda में account नहीं होना चाहिए
  • यह सुविधा केवल भारतीयों के लिए है
  • Internet, webcam, microphone Enable device या mobile, VIdeo KYC के लिए जरुरी है !
Bank Of Baroda Online Zero Balance Account Open कैसे करे?

Bank Of Baroda Online Zero Balance Account Open कैसे करे? – बैंक ऑफ़ बड़ौदा में ऑनलाइन खाता कैसे खोले ? 2022

दोस्तों अब आपके पास Bank Of Baroda की सभी जानकारी है, चलिए अब जानते है कि बैंक ऑफ़ बड़ौदा में ऑनलाइन खाता कैसे खोले ?(2022) इससे पहले आपको Zero balance Account का मतलब भी समझा देते है ! जीरो बैलेंस खाते का अर्थ है, कि आपको इस प्रकार के खाते में कोई भी maintenance charge नहीं देना होता है ! आप zero balance account में आप बिना पैसे डाले भी इस खाते को चालू रख सकते है !

क्योंकि यह एक bank of Baroda का  Saving account है ! चलिए अब जानते है कि हम किस प्रकार बैंक ऑफ़ बड़ौदा में ऑनलाइन खाता खोल सकते है। मैंने आपको Step by step बताया है बस आपको  उसे फॉलो करना है !

Step – 1 :- Bank of Baroda में Zero Balance Account Opening के लिए सबसे पहले आपको बैंक ऑफ़ बड़ौदा की Official website पर जायें , और थोड़ा सा Scroll down करे ! फिर Digital Accounts पर click करें !

bank of Baroda saving account

Step – 2:- अब आपके पास एक नया pop-up open होगा, जिसमें आपको Bank of Baroda  में Online saving account open करने में लगने वाले document के बारे में जानकारी दी जाएगी ! जिसके बारे में हम ऊपर बात कर चुके है ये डॉक्यूमेंट आपके पास होना बहुत ही ज़रुरी है! अगर आपके पास सभी डॉक्यूमेंट है तो आप “YES” बटन पर click करें !

Step -3:- अब आपके सामने एक नया windows open होगा इसमें आपको basic details देना है! सबसे पहले Email address टाइप करें, फिर मोबाइल नंबर टाइप करें ! Mobile number आपको वही देना है जो आपके आधार से link हो ! इसके बाद सभी आप्शन को mark करें, और Next बटन पर click करें !

Step -4:- अब आपको PAN Card और Aadhar Number को टाइप करना होगा, और नीचे दिए गए दोनों option को mark करे फिर Next button पर click करें !

online Zero Balance Account

Step-5 :- इसके बाद आपको Bank of baroda की तरफ से OTP भेजा जायेगा, उस OTP के द्वारा Verification करना होगा और आपकी सारी details जैसे – Name,Photo, address और Date of birth आपके आधार से fatch कर ली जाएगी ! अब आप branch को सेलेक्ट करें,और proceed button पर click करें !

बैंक ऑफ़ बड़ौदा में खाता कैसे खोले ?

Step -6 :- अब आपको अपनी पर्सनल इनफार्मेशन भरना है, जिसमे आपके माता-पिता का नाम, आप क्या काम करते है, आपकी income कितनी है! इसके बाद आप जिसे नॉमिनी बनाना चाहते है उसकी details भरे और proceed बटन पर click करें !

Step -7:- अब आपको बैंक ऑफ़ बड़ौदा की Additional Services को सेलेक्ट करना है, जैसे – Debit card, Internet banking, mobile banking, Sms Alert, UPI और Cheque book. जिन सुविधा का आप लाभ लेना चाहते है, उन्हें सेलेक्ट करें, और Next button पर click करें !

online Zero Balance Account

Step-8:- अब आपके पास आपने जो भी सारी details भरी है, वह आपके सामने दिखाई देगी ! आपको सारी details को अच्छी तरह चेक करना है, अगर आपको details में कुछ change करना चाहते है, तो Edit पर click करके सुधार कर सकते है, और अगर आपकी सभी जानकारी सही है तो Submit Application पर click करें!

अब आपके सामने URN नंबर दिखाई देगा ! जिसका मतलब है की आपके डॉक्यूमेंट Submit हो गए है और अब सिर्फ Video KYC की प्रोसेस को complete करना है !

Step- 9 :- दोस्तों अगर आपके पास कंप्यूटर से वेबकैम कनेक्ट है तो इस प्रोसेस को आप कंप्यूटर में भी कर सकते है अगर आपके पास webcam नहीं है तो आपके मोबाइल पर एक link भेजा जायेगा ! उस पर आपको click करना है और आपको Video KYC को complete करना है!

अगर आपके द्वारा डी गई जानकारी सही है, तो यह सारी प्रोसेस complete होने के बाद आपका bank of baroda में Online Zero Balance Account सफलतापूर्वक खुल जायेगा ! और आपके email account पर account number भेज दिया जायेगा!

बैंक ऑफ़ बड़ौदा से सम्बंधित सवाल – जवाब 

प्रश्न – बैंक ऑफ़ बड़ौदा बैंक अकाउंट कैसे खोलें ऑनलाइन?

उत्तर :- ऑनलाइन बैंक अकाउंट खोलने के लिए निम्नलिखित स्टेप को फॉलो करे !
1. सबसे पहले बैंक ऑफ़ बड़ौदा की official website पर जाएं।
2. Digital account आप्शन पर click करें।
3. अब basic details में Email ID और आधार कार्ड से link मोबाइल नंबर टाइप करे।
4. फिर PAN card number और आधार नंबर टाइप करें ! और OTP verification करें।
5. आपकी details जैसे – Name,Photo, address और Date of birth आपके आधार से fatch कर ली जाएगी ! अब आप branch को सेलेक्ट करें।
6. अब personal details भरे, फिर Additional service सेलेक्ट करें ,और  Application को Submit करें।
7. उसके बाद आपके मोबाइल पर link भेजा जायेगा, उस पर click करके Video KYC complete करें।
8. सारी प्रोसेस के बाद आपके email पर अकाउंट नम्बर भेज दिया जायेगा।
इस तरह आप बैंक ऑफ़ बड़ौदा में ऑनलाइन अकाउंट खोल सकते है

प्रश्न :- भारत में सरकारी बैंक कौन कौन से हैं?

उत्तर :- भारत में 2021 में सरकारी बैंको के नाम निम्न लिखित है –

  1. यूको बैंक (UCO Bank )
  2. बैंक ऑफ महाराष्ट्र (Bank of Maharashtra)
  3. भारतीय स्टेट बैंक (State Bank of India)
  4. इंडियन बैंक (Indian bank)
  5. केनरा बैंक (Canara bank)
  6. इंडियन ओवरसीज बैंक (Indian Overseas Bank)
  7. यूनियन बैंक ऑफ इंडिया (Union Bank Of India) 
  8. बैंक ऑफ इंडिया (Bank of India)
  9. बैंक ऑफ बड़ौदा (Bank of Baroda)
  10. सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया (Central Bank of India)
  11. पंजाब एंड सिंध बैंक (Punjab and sind Bank)
  12. पंजाब नेशनल बैंक (Punjab National Bank)

प्रश्न :- बैंक ऑफ बड़ौदा में अकाउंट खोलने के लिए क्या क्या डॉक्यूमेंट लगते हैं?

उत्तर :- बैंक ऑफ बड़ौदा में अकाउंट खोलने के लिए आपके पास निम्नलिखित डॉक्यूमेंट लगते है –

  • PAN CARD (पैन कार्ड )
  • Aadhar Card (आधार कार्ड)
  • Passport Size Photo (फ़ोटो)
  • Mobile number (मोबाइल नंबर)
  • Email ID (ईमेल आईडी)

प्रश्न :- बैंक ऑफ बड़ौदा का टोल फ्री नंबर क्या है?

उत्तर :- बैंक ऑफ बड़ौदा का टोल फ्री नंबर निम्नलिखित है –

Toll Free Number

1800 258 44 55

1800 102 44 55

प्रश्न :- बैंक ऑफ बड़ौदा का बैलेंस चेक करने का नंबर क्या है?

उत्तर :- बैंक ऑफ बड़ौदा का बैलेंस चेक करने का नंबर निम्नलिखित है –

Balance Inquiry – 8468001111

Mini Statement – 8468001122

Conclusion

दोस्तों मुझे आशा है कि आपको बैंक ऑफ़ बड़ौदा में Online Zero balance account खोलने से सम्बंधित सभी जानकारी मिल गई होगी। यह पोस्ट आपको कैसा लगा हमे कमेंट करके जरुर बताये। और अगर आपको account open करने में कोई भी परेशानी आती है, तो आप कमेंट में पूछ सकते है, इस पोस्ट को अपने दोस्तों को भी share करे ! ताकि वह अगर बैंक ऑफ़ बड़ौदा में अपना account open करना चाहते है तो कर सकते है, इस पोस्ट को अंत तक पढने के लिए धन्यवाद !

यह भी पढ़े :-

IDBI Net Banking Registration कैसे करे ?

2

हेल्लो दोस्तों, क्या आप भी IDBI Bank के यूजर है ! और जानना चाहते है कि IDBI Net Banking Registration कैसे करे ? इसके क्या फायदे है ! आईडीबीआई का फुल फॉर्म क्या है ? आज की इस पोस्ट में हम बात करने वाले है, इन्टरनेट बैंकिंग क्या है ? और इस पोस्ट में IDBI Net Banking को Online और Offline दोनों तरीके से Registration करना बतायेंगे ! बस आपको इस पोस्ट step by step फॉलो करना है और पोस्ट के अंत तक आपकी इन्टरनेट बैंकिंग शुरु हो जाएगी !

वैसे तो internet banking की सुविधा सभी बैंक देती है! इससे पहले भी हमने State bank of India की net banking को Activate किया था ! अगर आपका account SBI में भी है तो आप उसकी भी इन्टरनेट बैंकिंग शुरू कर सकते है ! जिसके लिए आपको State bank of India की net banking कैसे शुरू करे ? इस  पोस्ट पढना होगा ! तो चलिए दोस्तों जानते है कि इन्टरनेट बैंकिंग क्या है ? IDBI Net Banking Registration कैसे करे ?

IDBI Bank Details in hindi – आईडीबीआई बैंक की जानकारी

दोस्तों IDBI Bank की स्थापना 1964 की गई थी ! इसका मुख्य कार्यालय मुंबई में है, इस बैंक की स्थापना भारतीय उद्योग के विकास के लिए loan और अन्य Financial सुविधाए प्रदान करने के लिए किया गया था ! आज के समय में भारत की सबसे बड़ी व्यापारिक बैंको में से है, जो Personal Loan, banking और finance की सुविधा प्रदान करती है !

IDBI बैंक में राष्ट्रीय महत्व के कई संस्थानों की मूल हैं, जैसे –  Exim Bank, SIDBI, NSE, और NSDL. यह बॉन्ड और डिपॉजिट मार्केट, सरकारी लोन और RBI, विदेशी मुद्रा में विदेशी ऋण के माध्यम से धन जमा करती है।

आईडीबीआई का फुल फॉर्म

आईडीबीआई का फुल फॉर्म ? IDBI Full Form in Hindi

IDBI Full form in Hindi:- IDBI का फुल फॉर्म “Industrial Development Bank of India” है, हिंदी में इसे “भारतीय औद्योगिक विकास बैंक” कहते है ! यह एक भारतीय सरकार की Owned Financial Service Company है ! यह दुनिया का 10 वां सबसे बड़ा बैंक है, इसमें 2912 एटीएम, 1602 शाखाएं, और 1013 केंद्र है !

आईडीबीआई बैंक की प्रमुख विशेषताएँ  – IDBI bank schemes in Hindi

दोस्तों अब जानते है, कि IDBI Bank की क्या विशेषताएँ है, और यह बैंक हमे क्या – क्या सुविधा देती है, ताकि आप भी इन सभी सुविधाओं का लाभ उठा सके !

IDBI BANK Loan Schemes

  • Home Loan Scheme (होम लोन सुविधा ) – IDBI Bank की home loan Scheme भी काफी अच्छी है ! इस बैंक से कम ब्याज पर home loan के लिए Apply कर सकते है !
  • Personal Loans Scheme (पर्सनल लोन सुविधा) – IDBI Bank आसान किस्तों में personal loan भी provide करती है !
  • Education Loans Scheme (एजुकेशन लोन सुविधा) – आईडीबीआई बैंक से आप Education loan के लिए भी Apply कर सकते है !
  • Auto Loan Scheme (ऑटो लोन सुविधा) – IDBI Bank के द्वारा किसी भी प्रकार के वाहन के लिए loan और finance का भी लाभ उठा सकते है !
  • सभी प्रकार के ऋण की किस्तों जैसे – कृषि लोन, होम लोन, गोल्ड लोन आदि की सुविधा देती है

इसके अलावा IDBI बैंक में Life Insurance, Auto Insurance, Gift Card, PPF subscription, Cash Card आदि सुविधाओं का लाभ उठा सकते है !

IDBI Internet banking के लाभ 

IDBI bank Net banking की सुविधा भी प्रदान करती है जिससे अपने खाते को ओपरेट करने में बड़ी आसानी हो जाती है जैसे –

  1. Easy money Transfer करना !
  2. Instant account Transaction चेक करना !
  3. ATM, Credit card को इन्टरनेट बैंकिंग की मदद से आप बदले या बंद कराने की request भेज सकते है !
  4. अपने बैंक खाते के संबंधी जानकारी तथा इसकी स्थिति देखना !
  5. किये गए बैंकिंग लेनदेन का पता करना और विवरण देखना !
  6. बैंक चेक की स्थिति पता करना !
  7. Bank account में बकाया राशि चेक करना !
  8. किसी भी तरह की ऑनलाइन पेमेंट करने की सुविधा !

IDBI Net Banking Registration

IDBI Net Banking Registration कैसे करे ?- IDBI Net Banking Registration in Hindi

दोस्तों अगर आपके पास आईडीबीआई बैंक की इन्टरनेट बैंकिंग है, तो इससे आपका बहुत समय बच सकता है, क्यांकि बैंक के छोटे-छोटे कामो के लिए भी हमे बैंक के चक्कर काटने पड़ते है ! और बैंक में होने वाली भीड़ को देखकर सर में दर्द शुरू हो जाता है ! इसी सर दर्द का इलाज है इन्टरनेट बैंकिंग !  पर IDBI Net Banking Registration कैसे करे ? यह जानने के लिए आपको step by step follow करना है और आपकी इन्टरनेट बैंकिंग शुरू हो जाएगी !

IDBI Net Banking Registration in Hindi

IDBI Net banking का registration  करने के दो तरीके है Online और Offline ! इस पोस्ट में आपको दोनों तरीके बताएँगे !

  1. Online IDBI net banking Registration
  2. Offline IDBI net banking Registration

IDBI Online net banking Registration

Step – 1 :- Online net banking का registration करने के लिए सबसे पहले google पर search IDBI net banking. आपको सबसे ऊपर IDBI बैंक का official website का  link मिल जायेगा, आपको उस link पर click करना है और आप IDBI बैंक के home पेज पर आ जाओगे !

इसके बाद आपको Right side में लॉग इन का ऑप्शन दिखाई देगा, उस पर click करने पर आपको कुछ आप्शन दिखाई देंगे ! अगर आपके पास saving account है तो आप Personal को सेलेक्ट करे और अगर आपके पास Current account है तो Corporate को सेलेक्ट करे !

Net Banking Registration in Hindi

Step – 2 :- अब आपके पास एक नया पेज open हो जायेगा, जो IDBI banking का लॉग इन पेज है ! इस पेज पर First Time User? Register Now पर click करना है !

IDBI Net Banking Registration कैसे करे

Step – 3 :- अब आप net banking के Registration पेज पर आ जाओगे ! इस पेज पर सबसे पहले MR.,Mrs. या Miss इनमे से जो आप है, उसे सेलेक्ट करे ! उसके बाद आपको customer ID को टाइप करना है Customer ID आपको बैंक की पास पर मिल जाएगी ! अब अपना Account Number टाइप करे और Continue बटन पर click करे !

idbi net banking registration online

IDBI Net Banking Registration in Hindi

Step – 4 :-  इसके बाद आपको ATM की details देना है, सबसे पहले 16 Digit का ATM Card Number टाइप करे ! उसके बाद ATM का PIN इंटर करे फिर card की Expiry Date इंटर करे !  अब I have read and accept all the term and conditions को सेलेक्ट करे और Continue बटन पर click करे !

Step – 5 :- इसके बाद आपके Register mobile पर OTP आएगा उस OTP को Enter करे और continue बटन पर click करे !

आईडीबीआई का फुल फॉर्म

Step – 6 :- इसके बाद आपको कोई भी text टाइप करना है और फिर किसी एक Image को सेलेक्ट करे और continue बटन पर click करे !

IDBI Full form

IDBI Net Banking Registration in Hindi

Step – 7 :-  IDBI net banking का registration करने में सबसे Important पासवर्ड को बनाना है, पासवर्ड को क्रिएट करने के लिए आपको कुछ जरुरी बाते ध्यान रखना चाहिए ! पासवर्ड क्रिएट करने में हमेशा capital letter, symbol,digit को प्रयोग करते हुए पासवर्ड create करे ! और कभी भी password में अपना नाम, Date of Birth या मोबाइल number का उपयोग नही करना चाहिए ! क्योंकि इन्हें कोई भी अनुमान लगा कर आपका पासवर्ड पता लगा सकता है !

सबसे पहले हम लॉग इन पासवर्ड बनायेंगे ! तो चलिए password को क्रिएट करते है जैसा आपको बताया गया है उसी प्रकार password इंटर करे, और एक बार फिर same पासवर्ड को टाइप करे !

अब नीचे वाले सेक्शन में आपको Transaction password (Profile Password) क्रिएट करना है ! यहाँ आपको पासवर्ड को थोडा बहुत change करना है और दोनों जगह Transaction password में same पासवर्ड इंटर करे ! और Submit बटन पर click करे !

Step – 8 :- IDBI net banking Registration successfully हो गया है अब हम net banking को लॉग इन करके देखेंगे ! इसके लिए वापस लॉग इन पेज पर आयें और पहले Customer ID (Login ID) इंटर करें उसके captcha Fill करे और continue to login पर click करे

Step – 9 :- अब आपके जो लॉग इन पासवर्ड बनाया था उसे टाइप करे और login बटन पर click करे ! अगर आप ID पासवर्ड सही टाइप करेगें तो आप successfully लॉग इन हो जाओगे !

आईडीबीआई का फुल फॉर्म

Offline IDBI net banking Registration

Net banking Offline Registration करना भी बहुत आसान है ! पर इसके लिए आपको बैंक जाना होता है ! बैंक में आपको internet banking को Activate करने के लिए form भरकर देना होता है ! यह form आप बैंक से भी ले  सकते है और IDBI बैंक की Official site  से भी डाउनलोड कर सकते है !

उसके बाद आपको बैंक से इन्टरनेट बैंकिंग की KIT दी जाती है जिसमे आपको Temporary Password दिया जाता है !

अब आपको login पेज पर आना है और अपनी Customer ID और Temporary password टाइप करे ! इस  Temporary password की मदद से आप आसानी से लॉग इन कर सकते है और इसके बाद आपको जैसा ऊपर password क्रिएट करना बताया है वैसे ही आपको New Password क्रिएट करना है !

इस तरह आप IDBI NET Banking को Online और Offline दोनों तरीके से registration कर सकते है

आईडीबीआई बैंक से सम्बंधित सवाल/जवाब

प्रश्न :- क्या इंटरनेट बैंकिंग के लिए कोई शुल्क हैं? पात्रता क्या है ?

उत्तर :- IDBI बैंक में बचत खाता, चालू खाता, या डीमैट  है तो आप इन्टरनेट बैंकिंग के लिए रजिस्ट्रेशन कर सकते है इन्टरनेट बैंकिंग को शुरू करने में कोई शुल्क नहीं लगता है यह सुविधा बिलकुल मुफ्त है !

प्रश्न :- IDBI क्या सरकारी बैंक है?

उत्तर :- कंपनीज एक्ट, 1956 के तहत IDBI Bank को सरकार ने Public Finance institution मतलब कि सार्वजनिक वित्तीय संस्थान घोषित किया ! IDBI Bank 2004 तक वित्तीय संस्थान के रूप में काम करता रहा ! लेकिन 2004 में उसे पूरी तरह से बैंक के रूप में बदल दिया गया !

प्रश्न :- IDBI बैंक की स्थापना कब हुई थी?

उत्तर :- IDBI बैंक की स्थापना 1 जुलाई 1964 में हुई थी !

प्रश्न :- आईडीबीआई बैंक का मुख्यालय कहाँ है?
उत्तर :- IDBI Bank का मुख्यालय मुंबई में स्थित है !
प्रश्न :- आईडीबीआई का फुल फॉर्म क्या होता है?
उत्तर :- आईडीबीआई का फुल फॉर्म “Industrial Development Bank of India” है, हिंदी में इसे “भारतीय औद्योगिक विकास बैंक” कहते है ! यह एक भारतीय सरकार की Owned Financial Service Company है ! यह दुनिया का 10 वां सबसे बड़ा बैंक है, इसमें 2912 एटीएम, 1602 शाखाएं, और 1013 केंद्र है !

दोस्तों आपको अब आपको सभी सवालों के जबाव मिल गए होंगे कि IDBI Net Banking Registration कैसे करे ? (IDBI Net Banking Registration in Hindi) आईडीबीआई का फुल फॉर्म  क्या है ? इसके क्या फायदे है ! अगर आपको अभी भी IDBI bank से सम्बंधित सवाल है तो आप कमेंट में पूछ सकते है और यह article आपको कैसा लगा यह भी बताएं ! इस Article को अपने दोस्तों के साथ जरुर share करे ! धन्यवाद  

यह भी पढ़े :-

Share market क्या है? शेयर बाजार से पैसे कैसे कमाए

1

हेल्लो दोस्तों, आज की इस Post Share market क्या है ? (What is Share market in Hindi) शेयर बाजार से पैसे कैसे कमाए? Trading क्या है ? Trading के प्रकार इसकी पूरी जानकारी इस पोस्ट में देने वाले है ! अगर आप भी Stock market से पैसा कमाना चाहते है ! तो आपको इस पोस्ट को last तक पढना होगा ! क्योंकि इस पोस्ट में हम आपको शेयर बाजार से जुडी हुई सारी जानकारी देंगे ! जिससे आप भी शेयर बाजार से पैसे कैसे कमाए? यह सीख जायेंगे !

दोस्तों पैसा सभी कमाना चाहते है, और यह सभी जरुरत भी है ! क्योंकि पैसे के बिना अपना जीवन और जरुरत को पूरा नहीं कर सकते है ! पैसा सभी कमाते है, पर सबका तरीका अलग-अलग होता है ! कोई मेहनत करके पैसा कमाता है तो कोई business करके कमाता है, कुछ लोग ऑनलाइन पैसा कमाना पसंद करते है !

ऑनलाइन पैसे कमाने के बहुत से तरीके है जैसे – ऑनलाइन टाइपिंग, Blogging, Affiliate marketing, Google Adsense के द्वारा आदि !

ऑनलाइन पैसा कमाना सभी को बहुत आसान लगता है मैंने आपको जो तरीके बताये है ! इन सभी तरीको मै आपको ज्यादा पैसे खर्च नहीं करने पढ़ते है और कुछ काम में तो आपको पैसा भी खर्च नहीं करना पड़ता है ! और पैसा भी कमा सकते है !

Share market भी ऑनलाइन पैसा कमाने का अच्छा तरीका है पर दोस्तों यहाँ पर आपको अपना पैसा भी लगाना पड़ता है तब जाकर आप Stock market से पैसा कमा सकते है ! तो चलिए दोस्तों जानते है कि आखिर Share market क्या है ? (What is Share market in Hindi) और शेयर बाजार से पैसे कैसे कमाते है ?

Table of Contents

Share(Stock) क्या है ? What is share in Hindi

Share kya hai – दोस्तों शेयर बाज़ार को को समझने से पहले हम शेयर को समझ लेते है, कि Share क्या है ? (What is Share in Hindi) उसके बाद हम शेयर मार्किट को समझेंगे ! शेयर का मतलब होता है “हिस्सा या भाग” ! और Share का Full Form “Stock Holding Asset Requirements Exchange” होता है ! अगर मै आपको आसान भाषा में समझाऊ, तो कोई व्यक्ति या कंपनी अपने निवेश को बढ़ाने के लिए अपनी कंपनी के अंदर  हिस्सा देती है ! उसे Share या Stock  कहते है !

शेयर कितने प्रकार के होते है – Types Of Shares in Hindi

Stock market में शेयर तीन प्रकार के होते है –

Equity Share

शेयर मार्किट में listed कंपनिया जब अपना share जारी करती है उन share को Equity Share कहा जाता है ! इन्हें हम साधारण शेयर भी कह सकते है ! Equity share पर ज्यादा लोग ट्रेड करते है क्योंकि यह share सभी कंपनिया जारी करती है ! और लोग investing के लिए Equity share को ही खरीदना पसंद करते है ! Equity share होल्डर के पास voting के अधिकार होते है !

Preference Share

Share Market में Equity Stock के बाद Preference Share का ही नाम आता है ! इन दोनों में ज्यादा अंतर नहीं है बस Preference Share होल्डर को वोटिंग का अधिकार नहीं होता है वह कभी भी कंपनी की meeting में voting नहीं कर सकता है और Preference Share होल्डर को कंपनी से मिलने वाला profit पहले से ही तय रहता है या प्रॉफिट साल के अंत में दिया जाता है !

DVR Share

दोस्तों DVR का पूरा नाम “Differential Voting Rights” है DVR शेयर में Share Holder को Equity share की तरह ही profit मिलता है ! लेकिन voting के अधिकार पूरी तरह नहीं मिलते है ! DVR share होल्डर को सिर्फ जहाँ उसे अधिकार दिए गए है केवल वह वही पर voting कर सकता है ! कहने का मतलब है कि DVR share holder voting के लिए पूरी तरह स्वतंत्र नहीं है !

कंपनी शेयर क्या है ? कंपनी के शेयर Stock Market में कैसे आते है ?

जब भी कोई कंपनी अपने Share को Stock Market में लाना चाहती है तो उन्हें पहले IPO (initial public Offer) के लिए Apply करना होता है ! उसके बाद शेयर इन्वेस्टर के द्वारा ये शेयर खरीद लिए जाते है ! जब इन्वेस्टर को प्रॉफिट होता है तो investor उन Share को exchange में वापस बेच देते है ! उसके बाद उन्ही share पर trading होना शुरू हो जाती है ! और सभी लोग उन share खरीद सकते है इन्ही share को कंपनी शेयर कहा जाता है

what is share market in hindi

Share market क्या है ? (What is Share market in Hindi)

Share market kya haiदोस्तों market का मतलब तो आप सभी जानते है ! फिर भी मै आपको समझाने के लिए जरुर बताऊंगा ! market का मतलब होता है बाज़ार जहा पर किसी भी सामान को खरीदा और बेचा जाता है ! उसी प्रकार Stock market का मतलब होता है शेयर बाजार ! लेकिन इस बाजार में केवल हम शेयरों को ही खरीद और बेच सकते है ! इसलिए Share market कहा जाता है !

शेयर बाजार में हम NSE और BSE में share खरीद और बेच सकते है ! NSE का मतलब होता हैNational Stock Exchange” और BSE का मतलब होता है “Bombay Stock Exchange” ! इसके अलावा share market को और भी कई नामो से जाना जाता है जैसे- Stock market, Share bazaar, Equity market, Wealth market, और निवेश बाज़ार आदि ! आप किसी भी नाम से जानते हो इन market का काम एक ही है शेयर को बेचना और खरीदना !

दोस्तों इस market की खास बात ये है कि आप इस market से करोड़ों रुपये कमा भी सकते है गवा भी सकते है ! अगर आपको share market की सही जानकारी नहीं है तो , इसलिए दोस्तों पहले आपको stock market की सारी  जानकारी लेना है उसके बाद ही अपना पैसा निवेश करे !

शेयर बाजार से पैसे कैसे कमाए ? (How to invest in share market in hindi)

शेयर बाजार से पैसे कैसे कमाए :- दोस्तों शेयर मार्केट से पैसे कमाने के लिए पहले आपके पास Trading और Demat Account होना जरुरी है ! सबसे पहले आप Demate account open कर ले ! अगर आपको नहीं पता है कि Demat account क्या होता है ? और Demat account कैसे open करते है , तो मैंने नीचे लिंक दिया है आप इन पोस्ट को पढकर भी Demat account open कर सकते है ! शेयर मार्केट में दो तरह से पैसा कमाया जाता है !

  1. Investment (Long Term Process) लम्बी अवधि के लिए निवेश 
  2. Trading (Short Term Process) कम अवधि के लिए निवेश 

Long Term Investment क्या है ? (लम्बी अवधि के लिए निवेश)

Long Term Investment kya hai :- Long Term Investment का अर्थ है, लम्बी अवधि के लिए  Share market से पैसा कमाने के लिए Long Term Investment सबसे अच्छा तरीका है ! इसमें आपको किसी भी कंपनी के शेयर का Analysis करके उसे Delivery में खरीदना होता है ! और लम्बी अवधि के लिए रखना होता है ! यह समय एक साल,तीन साल,पांच साल या दस साल से अधिक भी हो सकता है ! इस लम्बे समय में आपके share के दाम कई गुना बाद जाते है, और आपको अच्छा मुनाफा होता है !

Long Term Investment सबसे अच्छा फायदा ये होता है कि आपको उस share को बार-बार देखना नहीं पड़ता है और Long Term Investment नुकसान होने का जोखिम न के बराबर होता है ! इसके अलावा Bond, Mutual Fund,SIP आदि में निवेश करना Long Term Investment के अंतर्गत आता है|

Trading क्या है ? (What is Trading in Hindi)

Trading kya hai :-  Trading का मतलब आसान भाषा में किसी वस्तु को खरीद कर मुनाफे में बेचना trading कहलाता है ! उदाहरण के लिए अगर आप कही से कुछ फ्रूट या सब्जिया खरीद कर लाते है और उन्हें किसी और अधिक दाम पर बेचकर लाभ कमाते है इसे ही trading कहा जाता है ! वही काम हमें शेयर मार्केट में करना होता है हम share को खरीदते है और बेचते है ! इस प्रक्रिया को share market में trading कहते है !

Trading कितने प्रकार की होती है ? (Types of trading in share market in Hindi)

Trading kitne Prakar ki hoti hai :-  Share Market में Trading के तीन प्रकार होते है –

  • Intraday Trading
  • Positional Trading
  • Short Term Trading या Swing Trading

Share market में Trading के प्रकार

Intraday Trading क्या है ? – What is Intraday Trading in Hindi

Intraday Trading kya hai :- भारत में share market सुबह  9:15 AM से शुरू होता है और 3:30PM बजे बंद होता है ! Intraday trading में ट्रेडर इसी समय के बीच में किसी share को buy करता है और उसी दिन 3:30PM से पहले Sell करता है ! इस प्रक्रिया को Intraday Trading कहते है ! 

इस तरह की trading में share की खबर और न्यूज़ के आधार पर कम समय में मुनाफा कमाने के लिए की जाती है ! जब share market में कोई अच्छी या बुरी खबर आती है तब शेयर मार्केट में उतार चड़ाव होते है ! intraday ट्रेडर बस इन्ही अबसर अपना प्रॉफिट बनाते है ! Intraday trading में काफी जोखिम होता है, इस तरह की trading करने के लिए बहुत से ब्रोकर 10 से 20 गुना तक Margin भी देते है ! इसमें में ज्यादातर नुकसान ही होता है ! बहुत कम लोग होते है, जिन्हें मुनाफा होता है ! क्योंकि intraday trading में share को उसी दिन बेचना होता है, आप न भी बेचे तब भी आटोमेटिक यह Sell हो जायेगा

Positional Trading क्या है ? – What is Positional Trading in Hindi 

Positional Trading kya hai :- Positional Trading में Share को Delivery में buy करना होता है ! और उस share को उसी दिन न बेचकर अगले दिन या एक सप्ताह में बेचना Positional Trading कहलाता है ! आसान भाषा में एक ट्रेडर शेयर को खरीद कर एक सप्ताह के लिए पोजीशन बना कर उसे मुनाफे पर बेचता है ! यह जरुरी नहीं है कि वह उस share को एक सप्ताह में ही बेचे ! क्योंकि यह share delivery में ख़रीदे जाते है जिसके कारण यह दो दिन बाद demat account में आ जाते है इसलिए वह उन share को long term के लिए भी Hold कर सकता है| 

इस तरह की trading में Overnight risk जरुर रहता है क्योंकि कई बार बुरी खबरों के कारण अगले दिन share का दाम ज्यादा नीचे भी आ जाता है ! परन्तु Positional Trading में नुकसान कम होता है !

Short Term Trading या Swing Trading  क्या है ? – What is Swing Trading in Hindi 

Swing Trading kya hai :-  Short Term Trading में कोई Trader शेयर को खरीदकर 1 Week से 4 Week तक रखता है और फिर उसे प्रॉफिट में बेचता है, उसे “Short Term Trading” कहते है।

Trading करने का सबसे अच्छा तरीका Swing trading माना जाता है। Swing trading करने के लिए Technical Analysis का उपयोग किया जाता है ! और उस share की सही entry position पर buy किया जाता है ! और उस stock पर आने वाले Swing का लाभ उठाने के लिए कुछ दिनों से लेकर कुछ हफ्तों तक रखा जाता है और प्रॉफिट आने पर बेच दिया जाता है ! इस प्रक्रिया को “Swing trading” कहते है !

दोस्तों मैंने आपको trading के तीनो प्रकार बताये है आपको तीनो trading के प्रकार में से कौन सा अच्छा लगा comment करके जरुर बताये !

Share market से सम्बंधित सवाल/ जवाव

प्रश्न – शेयर मार्केट में पैसे कैसे कमाए?

उत्तर – शेयर मार्केट से पैसा कमाने के लिए अच्छे Fundamental वाले stock को चुने उस पर Research, Chart Analysis,कंपनी की ग्रोथ, balance sheets, इन सभी के बारे में जानकारी ले ! अगर सभी चीजे सही हो, तो उस stock को buy करे ! हमेशा जिस कंपनी के शेयर ख़रीदे उसकी वार्षिक आय और ग्रोथ देखकर ही share में निवेश करना चाहिए ! ऐसे stock हमेशा मुनाफा देते है !

प्रश्न – शेयर कितने प्रकार के होते हैं?

उत्तर – Stock market में शेयर तीन प्रकार के होते है –

  1. Equity Share 
  2. Preference Share 
  3. DVR Share (Differential Voting Rights)

प्रश्न – ट्रेडिंग कितने प्रकार का होता है?

उत्तर – शेयर बाजार में ट्रेडिंग तीन प्रकार की होती है –

  1.  Intraday Trading (इंट्राडे ट्रेडिंग )
  2.  Swing Trading (स्विंग ट्रेडिंग)
  3.  Positional Trading (पोजिसनल ट्रेडिंग)

प्रश्न – डीमैट अकाउंट से क्या फायदा है?

उत्तर – डीमैट अकाउंट ओपन करने के निम्नलिखित फायदे है –

  • समय की बचत होती है
  • Financial Securities का सरल Dematerialization कर सकते है
  • दस्तावेज का ख़राब होना,चोरी होना,खो जाने का जोखिम नहीं होता है !
  • शेयरों के ट्रान्सफर करने में आसानी होती है !
  • शेयरों को खरीदना और बेचना आसान हो जाता है !
  • Financial Securities के बदले में Loan भी ले सकते है !

Conclusion

दोस्तों share market क्या है ? (share market in hindi) शेयर मार्केट से पैसे कैसे कमाए ? Trading क्या है ? Trading के प्रकार ! इन सभी सवालों के जवाब आपको मिल गए होंगे ! अब आप share market के बारे में भी जानते है और उससे पैसा कमाना भी ! यह Article आपको कैसा लगा कमेंट में जरुर बताये ! Stock market से related अगर आपका कोई सवाल है तो कमेंट में जरुर पूछे और इस article को अपने दोस्तों के साथ जरुर share करे ! धन्यवाद 
यह भी पढ़े :-

Latest Articles

Most Popular